Read latest updates about "लाइफ स्टाइल" - Page 4

  • बाल कथा: जहां चाह, वहां राह

    विक्रमगढ़ में राजा विराट राज्य करते थे। वे बहुत ही दयालु एवं न्यायमित्रा राजा थे। प्रजा के हर सुख-दुख का पूरा ख्याल रखते। प्रजा के कष्टों को जानने के लिए वे अपने प्रधानमंत्री हिमांशु के साथ रात्रि में भेष बदलकर घूमने निकला करते थे। एक दिन अपने नियम के अनुसार राजा विराट अपने प्रधानमंत्री के साथ घूम...

  • बाल जगत: चिन्टू की चतुराई

    आज फिर चिन्टू खरगोश की बारी थी, शेर राजा के पास जाने की। मां बेचारी सुबह से ही उदास थी कि होली के दिन प्यारा सा चिन्टू, नन्हा सा चिन्टू, गोरा-गोरा, गोल मटोल चिन्टू शेर राजा के पेट का हिस्सा बन जाएगा। जंगल में हुई पंचायत के फैसले के अनुसार हर दिन एक जानवर शेर के भोजन हेतु भेजा जाना तय था। चिन्टू को...

  • गरिमा बनाए रखें सास के रिश्ते की

    जब मां बेटे की शादी करती है तो वह खुशी से फूली नहीं समाती परन्तु कुछ समय बाद यह खुशी मुरझाने लगती है। प्राय: शिकायतें होती हैं कि बहू सास की इच्छाओं के अनुकूल नहीं निकली, दान-दहेज उनकी हैसियत से कम लाई है, काम में अपेक्षाकृत कम मदद करती है। उतना सम्मान उनको और उनके परिवार वालों को विवाह के समय...

  • ताकि ऐसी न बने आफत

    गर्मियों में एसी अब आवश्यकता बनाता जा रहा है। बड़े शहरों में पेड़ काटकर बनी मल्टीस्टोरीज बिल्डिंग व जरूरत से अधिक वाहन शहर में गर्मी व तापमान को बढ़ा रहे हैं। जब तक एसी ठीक काम कर रहा है तब तक तो उसकी ठंडक बहुत सुहाती है पर कभी कभी एसी जानलेवा भी हो सकता है अगर उसकी ठीक से देखभाल न की जाए। - एसी...

  • बच्चों के तनाव को पहचानें

    तनाव एक ऐसा घुन है जो बच्चों को भी नहीं छोड़ता। वे भी उसकी चपेट में अनजाने में आ जाते हैं। पहले तो 10 साल तक के बच्चे मस्त खेलते कूदते रहते थे, अपने बचपन का पूरा आनन्द उठाते थे पर आज के युग में बच्चा दो वर्ष का होता है तो माता पिता उन्हें हिन्दी और अंग्रेजी भाषा में रोजमर्रा में प्रयोग होने वाले...

  • 14 जून: आज ही के दिन सिखों के छठे गुरु हरगोविंद सिंह का जन्म हुआ था

    नयी दिल्ली - भारतीय और विश्व इतिहास में 14 जून की प्रमुख घटनाएं इस प्रकार हैं:- 1595 सिखों के छठे गुरु हरगोविंद सिंह का जन्म। 1775 अमेरिकी सेना की स्थापना हुई। 1880 वैज्ञानिक सतीश चंद्र दासगुप्ता का जन्म। 1901 पहली बार गोल्फ प्रतियोगिता का आयोजन हुआ। 1905 प्रसिद्ध शास्त्रीय संगीतकार हीराभाई...

  • काँटे ही काँटे हैं प्रेम की राहों में

    स्कूल कॉलेज में साथ में पढऩे वाले लड़के लड़कियों के लिए ट्यूशन, कोचिंग, कंप्यूटर प्रशिक्षण आदि कतिपय ऐसे स्थान हैं जहां से प्रेम का बीज अधिकतर अंकुरित होता है और फूटता भी है। साथ-साथ आने जाने, बैठकर पढऩे-लिखने, प्रतिदिन मिलने-जुलने और दोस्ती की प्राथमिक सीढ़ी पर चढऩे का सर्वोत्तम मौका उन्हें मिलता...

  • यूं करिए अपनी आंखों का मेकअप

    चेहरे की खूबसूरती में सबसे बड़ा योगदान होता है आंखों का। भारतीय महिलाओं को खूबसूरत और आकर्षक आंखों की मलिका कहा जा सकता है लेकिन कई महिलाएं आंखों के सही सौंदर्य को उजागर ही नहीं कर पातीं क्योंकि वे इन्हें संवारने के सही तरीके से अनजान होती हैं। आंखों के मेकअप में काम आने वाले प्रसाधन जैसे आई...

  • ऑफिस में सीमा न लांघें

    आखिर नैतिकता सही मायने में कौन सा सामाजिक कानून है? इसे किसने बनाया, इसकी धाराएं कौन तय करेगा? कौन से कोर्ट में इसकी अपील होगी? फैसला कौन करेगा? दरअसल नैतिकता की सीमा की कोई बाउंडरी नहीं है। नैतिकता बोध के मायने यही हैं कि आप स्वयं अच्छे बुरे को अपने विवेकानुसार समझें, परखें लेकिन यह बहस का मुद्दा...

  • 13 जून:भारतीय और विश्व इतिहास में 13 जून की प्रमुख घटनाएं

    नयी दिल्ली । भारतीय और विश्व इतिहास में 13 जून की प्रमुख घटनाएं इस प्रकार हैं:-1420 – जलालुद्दीन फिरोजशाह दिल्ली की गद्दी पर बैठा। 1757 – सिराजुद्दौला से युद्ध के लिए ईस्ट इंडिया कंपनी के रॉबर्ट क्लाइव ने मुर्शिदाबाद के लिए कूच किया। 1774 – अमेरिका का रोड द्वीप दास-प्रथा पर रोक लगाने वाला पहला...

  • शादी के पहले शारीरिक संबंधों का प्रभाव

    लगभग-18-20 वर्ष की आयु में युवा वर्ग में सेक्स के प्रति गहरा आकर्षण उत्पन्न हो जाता है। सभी जाति के युवकों में हर समय सेक्स संबंधी नई-नई जानकारी प्राप्त करने की उत्सुकता रहती है। सेक्स के प्रति अत्यधिक लगाव युवा वर्ग में शारीरिक संबंध बनाने का आधार बनता है। यह संबंध कैसे बनता है? शादी के पहले...

  • टूटने न दें इस रिश्ते को

    विवाह के बाद दंपति की आशाएं भिन्न हो सकती हैं जिससे दोनों के संबंधों पर प्रभाव पड़ सकता है। बड़े मुद्दों पर सहमति न होने पर गंभीर संघर्ष तथा जीवन को खतरा हो सकता है। इसके लिए आवश्यक है कि दंपति परस्पर वार्तालाप करें। एक दूसरे को अपने विचार, भावनाएं तथा भविष्य के लिए अपने उद्देश्यों व कल्पनाएं...

Share it
Top