मोटापे के बारे में अधिक जानें

मोटापे के बारे में अधिक जानें

मोटापा आधुनिक जीवन की एक ऐसी देन है जो शरीर की सुंदरता को बिगाड़ता है, साथ ही अनेक बीमारियों को भी न्यौता देता है। वैसे तो मोटापे के बारे में इतना कुछ लिखा, पढ़ा या सुना जाता है कि अधिकांश लोगों को पता है कि मोटापा कैसे होता है व इसे कैसे कम किया जा सकता है पर फिर भी कुछ ऐसी बातें हैं जिन्हें जानना बेहद जरूरी है।
कारण
- खान-पान की गलत आदतें।
- भूख के बिना खाना।
- उचित व्यायाम की कमी
क्या करें।
- शाकाहारी बनें।
- आपके भोजन में 80 प्रतिशत सब्जियों व फलों का होना अत्यंत आवश्यक है।
- तले-भुने खाने से परहेज करें।
- रिफाइंड खाद्य पदार्थ जैसे मैदा से दूर रहें।
- भोजन में नमक की मात्रा कम करें।
- कच्ची व भाप में पकी हुई सब्जियों को अपने रोजाना के भोजन का हिस्सा बनाएं।
- अनाज का सेवन कम करें।
- खाने के बीच में पानी और नाश्ते व दोपहर के खाने के बीच स्नैक्स का सेवन करने से बचें।
- जहां तक संभव हो सके, रात का खाना सोने से कम-से कम दो-तीन घंटे पहले खाएं। खाने में हल्के खाद्य पदार्थों को शामिल करें।
- डिब्बाबंद खाद्य पदार्थों के सेवन से बचें।
- भोजन सही ढंग से पच जाए, इसके लिए जरूरी है, इसे चबा-चबा कर खाया जाए।
- घीये का रस पेट को दुरुस्त रखने में लाभदायक है।
- आंवले का रस शरीर से ज़हरीले तत्वों को बाहर निकालता है।
- प्रतिदिन नारियल पानी पिएं।
- एलोवेरा के ताजे जूस का सेवन शारीरिक प्रणाली को दुरुस्त रखने में लाभकारी है।
- चाय, कॉफी, पेय पदार्थों के सेवन से बचें।
- वजऩ को नियमित रूप से चेक करें तथा एक डायरी में नोट करें।
- बाहरी गतिविधियां जैसे साइकिल चलाना, डांस करना, टेनिस खेलना आपके लिए लाभकारी हैं।
- जागिंग, योग, प्राणायाम इत्यादि नियमित रूप से करें।
- सुबह कम से कम 2-3 बार सूर्य-नमस्कार करें।
- सुबह-शाम मेडिटेशन करने से मन को शांति मिलेगी।
- दृढ़ इरादा व इच्छा शक्ति भी मोटापे को कम करने में काफी लाभकारी सिद्ध होती है।
- भाषणा बांसल

Share it
Top