गर्मियों में बचाएं अपनी खूबसूरती

गर्मियों में बचाएं अपनी खूबसूरती

गर्मियों का मौसम आते ही सबसे पहले त्वचा के लिए मुश्किल खड़ी हो जाती है। इन दिनों में त्वचा को सबसे ज्यादा नुक्सान होने की संभावना होती है।
इस कारण आपकी चिंताएं जरूर बढ़ जाती होंगी। तरह-तरह की क्रीमें चेहरे पर लगाकर आप इससे छुटकारा पाने की कोशिश करती होंगी मगर परिणाम कील-मुहांसे अथवा जलन में बदल जाता होगा। आपको कुछ खास बातों का ध्यान रखने की जरूरत है, बाकी सब ठीक हो जाता है।
गर्मियों में सबसे ज्यादा त्वचा सूर्य से प्रभावित होती है। सूर्य की किरणें त्वचा के लिए हानिकारक तो होती ही हैं साथ ही ये त्वचा की एपिडर्मिस से होकर त्वचा की डर्मिस के हिस्सों को भी प्रभावित करती हैं जिस कारण उचित उपचार के बावजूद त्वचा में निखार नहीं आ पाता।
किरणों से बचाएं त्वचा:- सूर्य की इन अल्ट्रावायलेट किरणों से बचने के लिए कुछ साधारण तरीके आजमाएं जा सकते हैं। बाहर जाते समय छाता हमेशा साथ रखें। फुल स्लीवस के सूती कपड़ों को पहनकर ही कहीं जाएं।
चेहरे और हाथों पर सनस्क्रीन लगाकर घर से बाहर निकलें। चेहरे के पसीने को पोंछते रहें। इसके लिए सूती रूमाल का प्रयोग करें। सनस्क्रीन भी साथ ले जाएं। वापस आकर चेहरे को बर्फ के पानी से धो लें।
कील-मुंहासों की परेशानी:- अगर गर्मियों में आपका चेहरा किसी तरह की फुंसी या कील-मुंहासे से ग्रसित हो जाता हो तो उस पर किसी नुकीले औजार का प्रयोग न करें। उसे खुरचें नहीं। वह धीरे-धीरे स्वयं ही लुप्त हो जायेगा। खुरचने से घाव गहरा हो सकता है जो इस गर्मी में तो पूरे चेहरे का दुश्मन बन सकता है।
विभिन्न उत्पादों का प्रयोग न करें:- गर्मियों में कम मेकअप करने का सुझाव दिया जाता है। पसीना आने से मेकअप बह भी जाता है और चेहरा भद्दा लगने लगता है। इस प्रकार चेहरे पर गर्मी अपना असर दिखा देती है। चेहरे पर अदलते-बदलते उत्पादों का प्रयोग कभी नहीं करना चाहिए। बाजार के उत्पादों की बजाय प्राकृतिक उत्पादों से पैक बनाकर चेहरे पर लगाना ज्यादा उत्तम रहता है।
- शिखा चौधरी

Share it
Top