यादगार बनायें हनीमून को

यादगार बनायें हनीमून को

हनीमून नाम ही रोमांच भरा है। हर युवा दिल इसकी बात आते ही मचल उठता है या रंगीन दिनों के सपने संजोने लगता है। विवाह के उपरान्त कुछ दिनों एकान्त में एक दूसरे का साथ और बिना किसी शोरशराबे और जिम्मेदारियों के ये दिन सबको खूब लुभाते हैं।
विवाह के पश्चात् सभी नव विवाहित जोड़ों की दिली इच्छा होती है कि वे दोनों एक दूसरे के साथ अधिक से अधिक समय बिताएं। ऐसे में हनीमून उनकी इस इच्छा को पूरा करता है। यदि आप भी हनीमून पर जा रहे हैं या जाने वाले हैं तो ध्यान दीजिए इन पहलुओं पर।
- सबसे पहले यह निश्चित कर लें कि हनीमून के लिए कहां जाना है और कितने दिन वहां रूकना है, इसकी रूपरेखा मिलकर तैयार कर लें।
- हनीमून पर कैसे जाना है, हवाई जहाज, रेलगाड़ी, बस या शिप द्वारा, यह तय कर अपने टिकट पहले ही बुक करवा लें।
- जिस स्थान पर आपको जाना है, उसकी जानकारी पर्यटन विभाग से पहले ही एकत्रित कर लें। उसमें पर्यटन स्थल और होटल आदि की जानकारी ले लें। हो सके तो सरकारी होटल में बुकिंग भी करवा लें नहीं तो वहां पहुंचकर दो चार होटल देखकर अच्छे होटल में रहने का प्रबन्ध कर लें।
- यदि आपके शहर में हनीमून पैकेज की बुकिंग होती हो तो वहीं बुकिंग करवा लेें ताकि वहां जाकर आपको भटकना न पड़े। हो सके तो अपने मित्र या किसी ऐसे निकट संबंधी से पूरी जानकारी एकत्र कर लें जो हाल ही में हनीमून से लौटे हों।
- होटल बुक करते समय यह ध्यान रखें कि होटल अधिक ऊंचाई पर न हो, न ही शहर से बहुत दूर हो। हो सके तो मुख्य शहर में या माल रोड के आस पास हो ताकि घूमने और जाने में अधिक कठिनाई न हो।
- आस पास के दृश्य देखने के लिए होटल वाले से या पर्यटन विभाग से जानकारी लें और प्रयास करें कि टूरिस्ट बस पर जायें ताकि कुछ और लोग भी साथ हों। अकेले टैक्सी आदि पर जाना ठीक नहीं होता। या फिर मिलकर दो-तीन युगल टैक्सी कर लें। अधिकतर अच्छे होटल अपनी बस या टैक्सियां चलाते हैं।
साथ क्या ले जाएं
जाते समय कुछ विशेष सामान साथ रखना न भूलें जैसे:-
- स्मार्ट इनरवीयर, रंगीन सैक्सी नाईट ड्रेसें आदि।
- आरामदायक जूते, चप्पल रखना न भूलें।
- हेयर ड्रायर, शेविंग किट, मेकअप का हल्का सामान, मोतियों के मेल खाते आभूषण, फोल्डिंग आयरन, टार्च आदि लेकर जायें।
- कैमरा, फिल्म रोल्स और बैटरी के लिए सैल आदि रखना न भूलें।
- पेपर सोप, फेस टिशू आदि अपने पर्स में रखें ताकि रास्ते में आवश्यकता पडऩे पर बैग खोलना न पड़े।
- बुकिंग पेपर, टिकट, पर्यटन स्थल का नक्शा और दर्शनीय स्थानों की सूची भी रख लें।
- अपने साथ अधिक कैश की जगह टे्रवलर चैक रख लें जिन्हें संभालना आसान होता है।
- जरूरी दवायें, सेनिटरी नेपकिन, सेफ्टी पिन, सुई, धागा भी रख लें ताकि आवश्यकता पडऩे पर उन्हें प्रयोग में ला सकें।
- कपड़ों में हल्के कपड़े ही रखें ताकि सामान अधिक न हो जैसे पैन्ट्स, टी शर्टस, जैकेट, सलवार कमीज़ आदि। साड़ी आदि लेकर न जायें।
- अपने साथ जो सामान लेकर जायें, उसकी सूची तैयार कर बैग में रख लें ताकि वापिस लौटते समय ध्यान रहे कि सब सामान ठीक ठाक है।
- अपने सामान का पूरा ध्यान रखें।
- अपने बैग में एक दो अतिरिक्त बैग रख लें ताकि वहां से जो उपहार आदि खरीदें, उन्हें लाने में परेशानी न उठानी पड़े।
क्या न लेकर जाएं
महंगे वस्त्र, हाई हील के सैंडल, सोने के आभूषण और डायमन्ड के आभूषण, अधिक कैश, वीडियो कैमरा आदि साथ न लेकर जाएं। अधिक लगेज भी न लेकर जायें।
- ध्यान रखें यह बहुत कीमती और मस्ती का समय है। इसका पूरा लाभ उठायें। एक दूसरे को समझने का प्रयास करें। एक दूसरे की बुराइयों को हाईलाइट न करें। बाथरूम में मिल कर नहायें क्योंकि ऐसा मौका घर पर कम मिलता है। माहौल को रंगीन बनाये रखें पर एक दूसरे की इच्छाओं का भी घ्यान रखें। अपनी मर्जी दूसरे पर अधिक थोप कर बोरियत पैदा न करें।
-नीतू गुप्ता

Share it
Top