शादी की तैयारी और ब्यूटी पार्लर

शादी की तैयारी और ब्यूटी पार्लर

फैशन के इस दौर में सुंदरता की तो प्रतियोगिता हो गयी है। आजकल लड़की हो या लड़के, सुंदर व स्मार्ट दिखना चाहते हैं, सुंदरता भले ही पार्लर में जाने से आये या बाजार से कोई कीमती क्रीम लाकर। और अब बड़े क्या, छोटे-मोटे अवसर हों तो भी लड़कियाँ रूपवती बनने की धुन में पार्लर की ओर भागती हैं।
यदि शादी का अवसर हो तो निश्चित रूप से पार्लर में मेकअप करवाएंगी ही। मेकअप ही क्यों, आजकल तो ब्यूटीशियन शादी से पहले ब्लीचिंग, वैक्सिंग, फेशियल, हिना, डाई, बॉडी मसाज आदि कराने का सुझाव देती हैं। उनके शब्दों के जाल में आकर हर लड़की को उनकी सलाह उचित लगती है किन्तु जब खर्च का प्रश्न आता है तो भावी दुल्हन असमंजस में पड़ जाती है।
यदि खर्च करने का सामथ्र्य हो तो लगता है चलो करा ही लेते हैं। शादी कौन सी बार-बार होती है लेकिन खर्च सामथ्र्य से अधिक हो तो इस स्थिति में लगता है छोड़ो मेकअप ही करा लेते हैं, कौन फालतू का पैसा बरबाद करे।
वैसे यह भी सही है कि पार्लर में सब चीजों का खर्च बहुत होता है परन्तु साफ-सुथरे चेहरे पर मेकअप निखर कर आता है। सुंदर हाथ-पैर औरों को ही नहीं, खुद को भी अच्छे लगते हैं, इस तथ्य को नकारा नहीं जा सकता।
वास्तविक रूप में सभी बातों का निचोड़ यह है कि - क्या पार्लर में आप जो भी कुछ करवाती हैं, उसका पूरा लाभ उठा पाती हैं?
सच्चाई तो यह है कि जब आप मेकअप की बुकिंग कराने जाती हैं तो ब्यूटीशियन स्पष्ट यह नहीं बताती कि मेकअप के समय क्या क्या लाना है। बस शादी वाले दिन आने को कह देती है और साड़ी, जेवर तथा सैंडल लाना है। जब आप मेकअप के लिए जाती है तो फरमाइश करने लगती हैं कि गजरे लगवाने हैं तो स्वयं लाने चाहिए थे, मैचिंग नेल पालिश व नकली चोटी लगवानी है तो स्वयं लाना था। अब चूंकि शादी का दिन है, मेकअप करना आवश्यक हो गया है तो बेबात का खर्च तो सहना ही पड़ेगा। यदि वह आपका फेशियल, ब्लीच व अन्य मेकअप एक ही दिन में निबटाती है तो समझ लें आपको अच्छी तरह उल्लू बना रही है।
फेशियल करते समय 8-10 मिनट में मालिश समाप्त कर के फेस-पैक की जगह ब्लीच लगा देती है, इधर दो लड़कियाँ जल्दी-जल्दी पैरों तथा हाथों की वैक्सिंग समाप्त करने में जुट जाएंगी। चंूकि इस दौरान आपकी आंखें बंद होती हैं, इसलिए आप कुछ कह नहीं सकती हैं, बाद में आंख खोलने पर छोटे-छोटे बाल को देखकर कुछ कहती भी हैं तो आपको उल्टा सुनना ही पड़ता है कि सिर्फ एक बार करवाने से थोड़े ही होता है। आप पैसा देकर अपना सा मुंह लेकर घर आ जाइए। उत्सुकतावश अपनी किसी सहेली से पूछिएगा कि क्या मैं कुछ निखरी हूँ तो कौन ऐसी होगी जो इस शुभ दिन आपको निराश करेगी।
यदि आप चाहेंगी तो घर पर ही कम पैसों में आसानी से ये सब कहानी खत्म कर सकती हैं। आइए अब हम आपको बताएं कि कौन-कौन से कार्य हम घर पर ही कर सकते हैं।
यदि आप मेकअप पार्लर में कराना चाहती हैं तो यह जरूरी है कि शादी के करीब डेढ़ सप्ताह पहले ही बुकिंग करवा लें तथा ब्यूटीशियन से अच्छी तरह विचार-विमर्श कर लें कि मेकअप के समय क्या-क्या लाना है तथा फेशियल, ब्लीचिंग, थ्रेडिंग इत्यादि कब-कब करवाना है।
शादी वाले दिन मेकअप करवाने के लिए करीब चार घंटे पूर्व ही चले जाए ताकि बारात आने तक मेकअप के लिए पर्याप्त समय मिल जाए।
यदि आप भौंहों की थ्रेडिंग पार्लर में करवाना चाहती हैं तो शादी के दो दिन पूर्व करवा लें तथा ब्लीच तथा फेशियल भी दो दिन पहले करवा लें। ब्लीच फेशियल से पहले करवाएं। मालिश के बाद फेस पैक लगाकर उसे प्राकृतिक ढंग से सूखने दें। वैसे फेशियल व थ्रेडिंग के अलावा शेष कार्य आप घर पर भी अच्छी तरह कर सकती हैं।
घर पर ब्लीच करना तो और भी आसान हो गया है। बाजार से क्रीम, पाउडर, ब्लीच इत्यादि लाकर कर सकती हैं किंतु क्रीम में एक्टीवेअर सही अनुपात में मिलाएं तथा चेहरे पर लगा कर दस मिनट तक रखें। उस छोटी सी शीशी से आप 8-10 बार ब्लीच कर सकती हैं। एक बार ब्लीच आप शादी से 20 दिन पूर्व करें तथा दूसरी बार शादी के तीन दिन पूर्व करें किंतु ध्यान रहे चेहरे पर मुंहासे होने पर ब्लीच का प्रयोग कदापि न करें।
यदि आपका चेहरा बिलकुल साफ है तो फेशियल की भी आवश्यकता नहीं है। शादी के दो दिन पहले ब्लीच करवा कर चेहरे पर क्रीम लगाकर भाप ले लें। फिर फेस-पैक लगा सकती हैं। यदि चेहरे पर कील-मुंहासे हैं तो फेशियल पार्लर में ही करवाएं ताकि ब्यूटीशियन कील-मुंहासे साफ कर दे। पहली बार फेशियल शादी के 20 दिन पूर्व तथा दूसरी बार 3 दिन पूर्व करवाएं।
वैक्सग भी आप खुद ही कर सकती हैं। इसके लिए वैक्स की एक शीशी ले आएं। उसे गर्म करके हाथ व पैरों पर अच्छी तरह लगाएं। किसी बहन या सहेली की सहायता से वैक्स लगे हुए स्थान पर पट्टी डालकर उल्टी दिशा में खीचें। फिर उस पर लोशन इत्यादि लगा दें ताकि जलन होने पर आराम पहुंचे। भौंहें बनवाने के लिए आप पार्लर ही जाएं क्योंकि यह काम सफाई से खुद से नहीं होगा।
मेनीक्योर व पेडीक्योर आप भले ही हर रोज घर में ही करती रहिए। इसके लिए गरम पानी में शैंपू डालकर झाग बना लें तथा उसमें एक ढक्कन हाइड्रोजन पैराक्साइड डाल दें अथवा एक नींबू भी डाल सकती हैं। हाथ-पैर को इसमें में डालकर झांवा से मलती रहिए। 12-15 मिनट बाद हाथ-पैर पोंछ कर नाखूनों को आकार दें तथा उनकी सफाई करें। उस पर कोल्ड क्रीम लगाकर मालिश करते रहें। नेल-पालिश शादी के दिन दो घंटे पहले लगाएं।
ध्यान रहे सारा का सारा काम शादी से एक दिन पूर्व पूरा हो जाए ताकि शादी के दिन फ्री रहें तथा पूरी नींद लें जिससे आपका चेहरा तनावमुक्त रहे।
- संगीता

Share it
Top