रसोई गैस के उपयोग में बचत एवं सुरक्षा

रसोई गैस के उपयोग में बचत एवं सुरक्षा

मिसेज मल्होत्रा की प्राब्लम है कि उनकी रसोई गैस बीस दिन से अधिक नहीं चलती। मिसेज मल्होत्रा का पांच सदस्यीय परिवार है। मल्होत्रा के यहां मेहमानों का आना भी कभी कभार ही होता है। दूसरी ओर सक्सेना जी के घर मेहमान नवाजी चलती ही रहती है। उन्हें रसोई गैस के लिए दौड़-धूप कतई नहीं करनी पड़ती। ऐसा भी नहीं है कि सक्सेना जी 'पहुंच' वाले हैं, अत: उन्हें समय से पहले गैस उपलब्ध हो जाती होगी। शशि सेठी गैस की सप्लाई आते ही सिलेंडर की सील देखती हैं। सील बंद होने पर गैस कम मिलने की संभावना कम हो जाती है। तत्पश्चात् रसोई गैस का उपभोग करते समय छोटी बातों पर ध्यान देकर रसोई गैस की काफी बचत कर सकते हैं जैसे -
- खाना बनाना शुरू करने से पहले आवश्यक सामग्री कर लें।
- दालें आदि पानी में सात-आठ घंटे तक भिगोने के बाद बनाये।
- बर्तन रखने के बाद गैस चूल्हा जलायें एवं उसके लिए अच्छी किस्म के लाइटर का उपयोग करें।
- साधारणत: छोटे चूल्हे का उपयोग करें।
-आंच बर्तन के माप के अनुपात में निर्धारित करें अर्थात आंच का समायोजन ऐसा होना चाहिए कि आंच बर्तन की परिधि से बाहर न निकले।
- उपयोग में लाये जाने वाले बर्तन ढक्कनदार हों एवं प्रेशर कुकर का इस्तेमाल कर रसोई गैस की बचत कर सकते हैं।
- चूल्हे से बर्तन उतारने से पहले गैस बंद कर दें या बर्तन बदलते समय आंच न्यूनतम कर दें।
- यथासंभव गैस चूल्हे का इस्तेमाल खुद करें। बच्चों द्वारा उपयोग में लाये जाने पर बराबर नजर रखें एवं उन्हें उसकी बचत करने के तरीकों से अवगत करायें।
- चूल्हे के बर्नर नियमित रूप से साफ करें ताकि गैस प्रवाह में बाधा उत्पन्न न हो।
- सिलेंडर से चूल्हे तक प्रयुक्त गैस नली पर सेफ्टी नली का उपयोग करें।
- समय-समय पर जांच करते रहें कि कहीं गैस नली में कट तो नहीं हो रहा। ऐसी स्थिति में तुरन्त रेग्युलेटर से गैस बंद कर गैस नली बदलें या कट के स्थान पर काट कर बचाव कर लें।
- रसोई घर की खिड़कियां खुली रखें जिससे अचानक गैस रिसाव होने पर गैस प्रभावी नहीं होगी।
- अचानक गैस रिसाव होने पर रेग्युलेटर से गैस बंद करें एवं बिजली के स्विचों को यथा स्थिति में बना रहने दें। विकास के इस दौर में जब गैस चूल्हा हर गृहिणी की प्राथमिक आवश्यकता बन चुका है, यदि हम छोटी-छोटी बातों को नजर अंदाज कर सावधानियां बरतें तो निस्संदेह रसोई गैस की बचत करते हुए रसोई गैस का सुरक्षात्मक ढंग से उपभोग कर सकते हैं।
-नीरज खत्री 'एकांत'

Share it
Top