माश्चराइजर का प्रयोग कितना लाभप्रद

माश्चराइजर का प्रयोग कितना लाभप्रद

त्वचा को रेशम सा बनाए रखने के लिए त्वचा को नियमित माश्चराइज करना अति आवश्यक होता है। अगर हम त्वचा को माश्चराइज नहीं करेंगे तो कुछ समय बाद त्वचा कांतिहीन व बेजान लगने लगेगी। आइए जानें हम माश्चराइज कर अपनी त्वचा को रेशम सी कोमल कैसे बनाए रख सकते हैं।
हर त्वचा को जरूरत है माश्स्चराइजर की:-
हर इंसान की त्वचा साथ के साक डैमेज होती रहती है, माश्चराइजर त्वचा को डैमेज होने से रोकता है और हमारी त्वचा को रिपेयर करने में मदद करता है। नहाने के तुरंत बाद हमें अपनी त्वचा को माश्चराइज जरूर करना चाहिए ताकि त्वचा में नमी बनी रहे।
स्किन टाइप माश्चराइजर का चुनाव करें:-
किसी की स्किन ड्राई होती है, किसी की ऑयली और किसी के चेहरे पर पिंपल्स होते हैं। उन्हें भी माश्चराइजर का प्रयोग करना चाहिए पर खरीदने समय ध्यान रखना चाहिए कि उनकी त्वचा के लिए कौन सा माश्चराइजर बेहतर है। वैसे माश्चराइजर की बोतल पर लिखा होता है। ऑयली त्वचा के लिए बेहतरीन माश्चराइजर जिसमें एलोवेरा प्रमुख रूप से हो, वही अच्छा होगा।
लोशन वाला माश्चराइजर बेहतर होता है त्वचा के लिए:-
थिक क्रीम वाला माश्चराइजर अधिक ड्राई स्किन हेतु ठीक होता है जबकि लोशन वाला माश्चराइजर हर तरह की त्वचा हेतु बेहतर होता है। वैसे जेल वाला माश्चराइजर तैलीय त्वचा के लिए अच्छा होता है पर लोशन वाला माइस्चराइजर सभी प्रयोग कर सकते हैं।
प्रात: और रात्रि में करें माश्चराइजर का प्रयोग:-
जिनकी त्वचा साधारण है उन्हें भी दिन में दो बार माश्चराइजर का प्रयोग करना चाहिए। प्रात: नहाने के बाद और रात्रि में सोने से पहले हाथों और पैरों पर अवश्य लगाएं। अगर त्वचा खुश्क है तो दिन में जब भी जरूरत महसूस हो चेहरा धोकर उसे अप्लाई करें। ऑयली त्वचा वालों को भी प्रात: नहाने के बाद और रात्रि में सोने से पहले हल्का माश्चराइजर लगाना चाहिए। पैरों की एडिय़ों पर पेट्रोलियम जैली लगाएं ताकि एडिय़ा सॉफ्ट बनी रहें।
इसके अतिरिक्त ध्यान दें:-
- सारे माश्चराइजर एक टाइप के नहीं होते उनमें अलग अलग तत्व मौजूद होते हैं। अपनी स्किन टाइप के अनुसार माश्चराइजर लेबल पर ध्यान देकर खरीदें।
- एसपीएफ युक्त माश्चराइजर लगाने के बाद भी सनस्क्रीन का प्रयोग अवश्य करें।
- शरीर के अलग अलग हिस्सों के लिए अलग माश्चराइजर खरीदने की जरूरत नहीं। नहाने के फौरन बाद सारी त्वचा को माश्चराइज करें।
- सर्दियों में भी अधिक गर्म पानी से न नहाएं। त्वचा अधिक खुश्क होगी।
-मेघा

Share it
Top