रूप तेरा ऐसा कि दर्पण में न समाये

रूप तेरा ऐसा कि दर्पण में न समाये

प्राय: यह देखने में आता है कि युवावस्था में लड़का हो या लड़की, चेहरे पर कील मुहांसे व झांइयां निकल आती हैं जिससे चेहरे का सारा सौन्दर्य खराब हो जाता है। यदि कील मुहांसों को छेड़छाड़ कर फोड़ दिया जाये तो चेहरे पर और भी काले धब्बे पड़ जाते हैं व चेहरे को ग्रहण सा लग जाता है। चेहरे संबंधी तमाम परेशानियों से बचने के लिए कुछ घरेलू नुस्खे भी ऐसे हैं कि इनका उपयोग करने से जहां चेहरे पर कांति, आभा व निखार तो बना ही रहेगा, वहीं आपको लगेगा कि वास्तव में आप खूबसूरत हैं।
- चेहरे को सुन्दर व कोमल बनाये रखने के लिए तुलसी की पत्तियों को थोड़ी सी हल्दी मिलाकर पीस लें। इस मिश्रण को सुबह-शाम एक घंटे तक लगा रहने के बाद ठंडे पानी से धो लें।
- चेहरे पर से झाइयां व मुहांसे दूर करने के लिए जैतून के तेल में नींबू का रस मिलाकर चेहरे पर लगायें व बाद में पानी से धो लें।
- प्रतिदिन नहाने से पहले नींबू के ताजे छिलकों को मुंह पर रगड़ें व 10-15 दिन तक आप भाप लें। इससे कील व लाल-पीले दाने ठीक हो जायेंगे।
- यदि आप दिन भर धूप में रहे हैं तो चेहरा धो कर उस पर ठंडा दूध लगायें व बाद में थोड़ा-सा नींबू का रस मल लें। पांच-सात मिनट बाद चेहरा धो लें, चेहरे का सौन्दर्य बना रहेगा।
- पक्के केले को फेंट कर उसमें 3-4 चम्मच गुलाबजल मिला कर पेस्ट सा बना लें व इसे चेहरे पर चुपड़ लें। सूखने पर ताजे पानी से धो डालें। आपका चेहरा मक्खन-सा मुलायम रहेगा।
- आंखों के नीचे काले धब्बे दूर करने हेतु आलू को काटकर चेहरे पर घिसें। यदि कुहनियां, गर्दन व घुटने भी काले हैं तो रगड़ें। इससे त्वचा साफ हो निखर जायेगी।
- दूध पर जमी मलाई की परत लेकर उसमें थोड़ा-सा बेसन मिलाकर गर्दन व पीठ के ऊपरी हिस्से पर मलें। सारा मैल साफ हो जायेगा।
- कच्चा आलू पीसकर ग्लिसरीन, सिरका व गुलाब का अर्क मिलाकर पेस्ट बना लें व चेहरे पर लगा कर सूखने दें, घंटे भर बाद पानी से धो लें। चेहरे पर पड़े दाग, मुंहासे, झुर्रियां दूर हो जायेंगी।
- चेहरे पर घटिया साबुन व ज्यादा चिकनाई न लगायें।
- कील मुंहासे ज्यादा होने पर तेल, खटाई का इस्तेमाल बंद कर दें, कच्ची व ताजी सब्जियों व फलों का भरपूर सेवन करें, पानी खूब पियें व कब्ज न होने दें।
- युवतियां कील-मुंहासों से बचने के लिए मासिक धर्म को अनियमित होने से बचायें व इस दौरान खट्टी वस्तुएं न खायें।
- यदि फिर भी चेहरे का सौन्दर्य बरकरार न रह पाये या इन्फेक्शन हो जाये तो चमड़ी वाले डॉक्टर से चेहरे की जांच करवा कर उपयुक्त दवा लें।
- चेतन चौहान

Share it
Top