तो बाल बनें रेशम रेशम

तो बाल बनें रेशम रेशम

बाल और त्वचा हर मौसम में देखभाल मांगते हैं। अगर थोड़े से लापरवाह हुए तो उसका परिणाम भी शीघ्र सामने आ जाता है। गर्मियों व वर्षा में पसीना अधिक आने से बाल ड्राई व डल हो जाते हैं और सर्दियों में सर्द हवाएं उन्हें नुक्सान पहुंचाती हैं। इन सब का परिणाम बाल टूटने लगते हैं।

इनसे बचने के लिए हमें आवश्यकता होती है उन की एक्सट्रा केअर की। उसके लिए हमें बालों की सफाई पर विशेष ध्यान देना चाहिए और उसके अतिरिक्त बालों की सुरक्षा और कंडीशनिंग पर भी पूरा ध्यान देना चाहिए। बालों की नियमित सफाई से हम बालों की कुछ समस्याओं पर नियंत्रण पा सकते हैं।

माइल्ड शैंपू का प्रयोग करें:- बालों की सफाई हेतु माइल्ड शैंपू ही लें क्योंकि ज्यादा कैमिकल्स बालों को नुक्सान पहुंचा सकते हैं। सिर धोने से पूर्व बालों को पूरी तरह गीला कर लें। फिर शैम्पू को थोड़े से पानी में घोलकर बालों पर लगाएं।

स्कैल्प पर शैम्पू कम लगाएं, फिर धीरे धीरे बालों को हाथों के पोरों से रगड़ कर बालों की सफाई करें ताकि धूल-मिट्टी अच्छी तरह से निकल जाए। बाल धोने के बाद बालों पर कंडीशनर का प्रयोग अवश्य करें ताकि बालों में नमी बनी रहे और दो मुंहे बालों से भी बचाव रहे। कंडीशनर को भी बालों के निचले भाग पर लगाएं और स्कैल्प पर न लगाएं। ऊपर भी बस बालों पर ही लगाएं। 5 से 6 मिनट बाद ताजे पानी से बालों को अच्छी तरह धो लें।

धूप में निकलने से पहले बालों पर हेयर सन प्रोटेक्शन सीरम लगाएं। सीरम किसी अच्छी कम्पनी का प्रयोग करें। उसमें एस पी एफ 20 से 30 तक होना चाहिए। इससे बालों को सुरक्षा मिलेगी और हैल्दी रखने हेतु हेयर स्पा भी ले सकती हैं।

कैमिकल्स का प्रयोग कम करें:- आजकल बालों को कलर करने, ब्लीच करने और स्टे्रटनिंग करने का फैशन बहुत ज्यादा है। इन सबमें कैमिकल्स की मात्रा होती है जो बालों को नुकसान पहुंचाती है। कलर किए बाल तो वैसे ही जल्दी डैमेज होते हैं ऊपर से यू वी किरणें उन्हें और नुकसान पहुंचाती हैं। यही हाल ब्लीचिंग और रिबोंडिग का भी है। बालों पर ब्लो ड्रायर और आयरनिंग का प्रयोग कम से कम करना चाहिए। बालों को स्टाइल देने के लिए हल्के गीले बालों का प्रयोग करें।

बालों का रखें ध्यान

- अधिक मात्रा में पानी का सेवन करें।

- गर्मियों में पसीना अधिक आता है। गर्मियों में बालों पर तेल कम लगाएं और सफाई पर अधिक ध्यान दें।

- बाल धोते समय मौसम अनुकूल पानी का प्रयोग करें। तेज गर्म पानी का प्रयोग न करें।

- बालों की ट्रिमिंग 6 से 8 हफ्तों के अंतराल में अवश्य कराएं। ट्रिमिंग न होने से बाल उलझते अधिक हैं।

- स्विमिंग पूल और बीच में जाने से पूर्व बालों को कैप से अवश्य कवर कर लें ताकि बालों पर साल्ट और क्लोरीन का प्रभाव ना पड़े क्योंकि दोनों चीजें बालों को नुकसान पहुंचाती हैं। स्विमिंग के बाद बालों को माइल्ड शैम्पू से साफ कर लें।

- तेज धूप पर निकलने से पहले बालों पर हैट, कैप का प्रयोग करें ताकि धूप से बालों का बचाव हो सके।

- हेयर कलरिंग से बचें। अनावश्यक बालों पर कलर न करें।

- शैम्पू के बाद कंडीशनिंग करना न भूलें। बालों की नमी के लिए यह आवश्यक है।

- बालों में चमक बनाए रखने हेतु नार्मल बालों में अंडे की सफेदी में नींबू की कुछ बूंदें डालकर बालों में लगाएं और कुछ देर बाद उन्हें धो लें। ऑयली बालों हेतु बेसन में अंडे की सफेदी मिलाकर लगाएं और कुछ देर बाद बालों को धो लें।

- मेघा गाबा

Share it
Top