'चंदन' महकाए तन-मन

चंदन महकाए तन-मन

चंदन का प्रयोग पिछले 4000 वर्षो से होता चला रहा है। वैदिक काल से ही इसे पवित्र माना जाता रहा है और ईश्वर पूजा संबंधी विधानों में इसका प्रयोग किया जाता है। चंदन प्राय: मंहगा होता है और इसकी खुशबू अपने आप में मोहक होती है। इसे कामोद्दीपक औषधि के रूप में भी प्रयोग में लाया जाता है।

चंदन दो प्रकार का होता है लाल चंदन या रक्ती चंदन व सफेद चंदन। लाल चंदन बहुत खुशबूदार होता है और सफेद चंदन का प्रयोग औषधीय रूप में किया जाता है। चंदन के कई औषधीय गुण हैं व सौंदर्य प्रसाधनों में भी इसका प्रयोग किया जाता हैं। आइए जाने गुणवर्धक चंदन के गुणों व प्रयोगों के बारे में:-

- चंदन का पाउडर त्वचा को ठंडक व कोमलता देता है। चंदन के पाउडर में गुलाब जल या पानी मिलाकर पेस्ट बनाकर त्वचा की क्लीजिंग में प्रयोग किया जा सकता है। अगर त्वचा रूखी व झुर्रियों का शिकार है तो इसका प्रयोग त्वचा को लाभ पहुंचाता है।

- अगर त्वचा सनबर्न का शिकार है तो चंदन त्वचा को ठंडक पहुंचाता है।

- चंदन एक अच्छा माश्चराइजर है। चंदन में शहद मिलाकर पेस्ट बना लें और त्वचा पर लगाएं। रूखी, तैलीय, सामान्य सभी प्रकार की त्वचा को यह लाभ पहुंचाता है। इस पेस्ट से पूरे शरीर की मालिश करें। इससे त्वचा में नमी की पूर्ति होगी व त्वचा कोमल बनेगी।

- चंदन त्वचा की टोनिंग भी करता है और त्वचा में अनोखी आभा लाता है इसीलिए कई ब्यूटी प्रॉडक्टस में चंदन का प्रयोग किया जाता है। चंदन के पेस्ट में गुलाब जल मिलाकर त्वचा पर लगाएं और फिर देखें अपनी त्वचा की ताजगी।

- नेचुरल कंडीशनर के रूप में हमें नींबू, चाय की पत्ती, शहद के बारे में तो जानकारी है पर बहुत कम लोग इस बात से परिचित हैं कि चंदन का तेल बालों के लिए बहुत अच्छा कंडीशनर है। यह बालों को मजबूती देता है, बालों की वृद्धि, चमक, पोषण, स्टाइलिंग में मदद करता है।

- अगर आप एक्ने या मुंहासों का शिकार हैं तो 1 चम्मच चन्दन और दो चम्मच सरसों के दानों को पीस चेहरे पर लगाएं। मुंहासे चंद दिनों में गायब हो जाएंगे।

- अगर शरीर पर खुजली हो रही है तो उक्त स्थान पर चंदन का तेल लगाने से लाभ मिलेगां।

- गर्मियों में 'हीट रैश' हो जाना एक समस्या है। इससे राहत पाने के लिए चंदन का तेल या पेस्ट शरीर पर लगाएं।

- एडिय़ों का फट जाना पैरों के सौंदर्य को फीका करता है। फटी एडिय़ों पर चंदन का तेल लगाने से आराम मिलता है।

- चंदन का प्रयोग कई प्रकार के खुशबूदार प्रसाधनों जैसे इत्र, परफ्यूम बनाने में किया जाता है जो आपके बदन को अपनी खूशबू से महकाता है। अरोमाथेरेपी में भी चंदन के तेल का प्रयोग किया जाता है।

-सोनी मल्होत्रा

Share it
Top