भीषण गर्मी से सौंदर्य सुरक्षा

भीषण गर्मी से सौंदर्य सुरक्षा

- हल्के रंग के ढीले-ढाले वस्त्रों का ही प्रयोग करें।

- सूती वस्त्रों का सर्वाधिक उपयोग करें।

- दोपहर में धूप में निकलते समय सिर पर टोपी, रूमाल या तौलिया रखें ताकि गर्मी के दुष्प्रभाव से बचा जा सके।

- इस मौसम में अल्प आहार लेना चाहिए नहीं तो हैजा होने का भय बना रहेगा।

- सुबह नाश्ते में नींबू की शिकंजी, दही की लस्सी और दूध की ठंडाई लाभप्रद है।

- अंकुरित चने का सुबह सेवन करें। विटामिन सी युक्त यह नाश्ता खून को साफ भी करता है।

- पानी या दूध के साथ शहद का उपयोग करें क्योंकि शहद भी पौष्टिक आहार है।

- गर्मी के मौसम में हरी सब्जियां टिण्डा, परमल, पालक, लौकी तथा टमाटर आदि खाना बहुत लाभदायक है।

- तले व्यंजनों की अपेक्षा हल्के व तरल पदार्थों का ही सेवन करें।

- दोपहर में मिल्क शेक, मैंगो शेक, नींबू, गाजर तथा बेल आदि का रस पीना स्वास्थ्यवर्धक है।

- भोजन खराब होने पर उसका सेवन कदापि नहीं करें वरना आप रोगग्रस्त हो जाएंगे।

- संध्याकालीन भोजन सात बजे तक अवश्य कर लें ताकि सोने से पूर्व भोजन हजम हो जाएगा।

- बालों को सुंदर बनाने हेतु नियमित रूप से सिर की सफाई करें।

- धूप से आते ही स्नान कदापि नहीं करें वरना आप अस्वस्थ हो जाएंगे।

- बीमारियों से पीडि़त व्यक्ति, नीम के पत्तों को उबालकर पानी ठंडा कर स्नान करें। इससे लाभ होगा।

- पसीने की बदबू के शिकार पुरूष और महिलाएं पानी में डेटोल या नींबू का रस मिलाकर प्रतिदिन शरीर की सफाई करें। इससे राहत मिलेगी।

- पैरों के तलवों पर तेल मालिश करने से आंखों की ज्योति बढ़ती है।

- लौकी व खीरे का टुकड़ा तलवों व पैर पर रगडऩे से मस्तिष्क तरोताज़ा रहता है।

- त्वचा के बाहरी सौंदर्य के लिए ज्यादा पानी पिएं। इससे भीतरी सफाई मिलती है।

- महिलाएं, मेकअप तथा तेल इत्यादि को दूर करके त्वचा को साफ रखें।

- शरीर की ताकत के अनुसार हल्का व्यायाम करें। इससे पित्त विकार दूर होता है तथा भोजन सही रूप से हजम होता है।

- सुबह शाम टहलना, दौड़ लगाना, तैरना तथा कुछ हल्के आसन करना स्वास्थ्यवर्धक है।

- खुंजरि देवांगन

Share it
Top