यूं करिए अपनी आंखों का मेकअप

यूं करिए अपनी आंखों का मेकअप

चेहरे की खूबसूरती में सबसे बड़ा योगदान होता है आंखों का। भारतीय महिलाओं को खूबसूरत और आकर्षक आंखों की मलिका कहा जा सकता है लेकिन कई महिलाएं आंखों के सही सौंदर्य को उजागर ही नहीं कर पातीं क्योंकि वे इन्हें संवारने के सही तरीके से अनजान होती हैं।

आंखों के मेकअप में काम आने वाले प्रसाधन जैसे आई लाइनर, मस्कारा, आई शैडो, काजल आदि का यदि सही इस्तेमाल किया जाए तो मुरझाई आंखों में भी बहार खिलाई जा सकती है।

आई लाइनर: काफी समय से लिक्विड आई लाइनर प्रयोग किया जाता रहा है। ये लगाने में आसान और अधिक आकर्षक भी है।

मस्कारा: आमतौर पर मस्कारा काले रंग का ही होता है। इसका प्रयोग पलकों को घनी लुक देने के लिए किया जाता हैं।

आई शैडो: आई शैडो बाजार में कई रंगों में उपलब्ध है। सामान्य रूप से बाजार में लिक्विड आई शैडो, क्र ीमी आई शैडो और पाउडर आई शैडो मिलते हैं। इसका प्रयोग अपनी त्वचा के रंग के अनुरूप करें।

काजल: स्त्री सौंदर्य में काजल आज से नहीं, वर्षों से प्रयोग किए जाने वाला सौंदर्य प्रसाधन है। यह आंखों को खूबसूरत तो बनाता ही है, आंखों का नूर भी कायम रखता है।

आंखों का आकार और मेकअप: आंखों का छोटा या बड़ा होना काफी मायने रखता है। अधिकतर महिलाएं अपनी आंखों को बड़ा लुक देना पसंद करती हैं। अलग-अलग प्रकार की आंखों के लिए भिन्न प्रकार का मेकअप किया जाना चाहिए।

छोटी आंखें: छोटी आंखों को बड़ा लुक देने के लिए पलकों की जड़ों से ऊपर की ओर हल्के रंग का आई शैडो लगाना चाहिए।

अधिक खुली या चौड़ी आंखें: चौड़ी आंखों को संवारने के लिए आंखों के ऊपरी भाग में हल्का और पलकों के करीब वाले हिस्से में गहरे शैडो का इस्तेमाल करना चाहिए।

अंदर धंसी, गहरी आंखें: आंखों को उभरा लुक देने के लिए हल्के रंग का पाउडर शैडो पलकों से शुरू करके भवों तक लगाएं। अंदर धंसी आंखों को उभारने के लिए यह नुस्खा लाजवाब है।

बंद सी लगने वाली आंखें: इस प्रकार की आंखों पर सिर्फ एक रंग का प्रयोग करना चाहिए। मस्कारा लगाते समय पहले पलकों के बाहरी भाग पर लगाते हुए पूरी पलकों पर लगाएं।

गोल आंखें: आंखों के बीच की क्रीज पर हल्का गहरा शैडो लगाते हुए ऊपर और नीचे हल्के रंग का इस्तेमाल करें।

आंखों का मेकअप उनके रंग को ध्यान में रखकर किया जाना चाहिए।

भूरी आंखें: भूरी आंखों पर भूरे रंग के विभिन्न शेड्स के लाइनर का प्रयोग किया जा सकता है।

हरी आंखें: हरी आंखों में पीले रंग के शेड्स लगाने चाहिए। मस्कारे के लिए काला रंग ही बेहतर है।

नीली आंखें: नीली आंखों के लिए गहरे ग्रे रंग का लाइनर लगाएं। मस्कारे के लिए ग्रे रंग उचित है।

काली आंखें: काली आंखें सबसे बेहतर मानी जाती हैं। इस रंग की आंखों वाली महिलाएं विभिन्न प्रकार के रंगों का प्रयोग कर सकती है। आई लाइनर में भूरा, चॉकलेटी, सॉफ्ट गोल्ड जैसे रंग लगाएं जा सकते हैं। वैसे भी सच यही है कि यदि आंखें स्वस्थ, चमकदार व सुंदर हैं तभी उन पर किया गया मेकअप भी अपना असर छोड़ता है।

कालिमा दूर करने के टिप्स

- तमाम सावधानियों के बावजूद अगर आपको कालिमा का अहसास हो तो वहां खीरे का रस लगाना शुरू करें।

इसमें गुलाबजल भी मिलाकर लगा सकती हैं। खीरे का रस कुदरती ब्लीचिंग एजेंट का कार्य करता है।

- संतरे के रस से रूई का पैड भिगोकर आंखों पर रखें। इससे काले घेरे दूर होते हैं। दरअसल संतरे में मौजूद विटामिन सी काले घेरे को दूर करने में मदद करता है।

- खीरे और आलू का रस बराबर मात्र में मिलाकर आंखों के आसपास लगाएं और 15 मिनट बाद चेहरा धो लें। यह उपाय रोज करें तो लाभ होगा।

- टी बैग को गर्म पानी में डालकर निकाल लें, फिर इसे फ्रिज में रख दें। ठंडा होने पर इसे आंखों पर रखें। इससे भी काफी लाभ होता है।

- सनोज कुमार

Share it
Top