नए तरीके से बर्तनों की धुलाई

नए तरीके से बर्तनों की धुलाई

भले ही आप पौष्टिक आहार ले रहे हों पर जिन बर्तनों का इस्तेमाल कर रहे हैं, यदि वही स्वच्छ नहीं हैं तो आप की हैल्दी डाइट कोई मायने नहीं रखती। पहले लोग राख से बर्तन साफ करते थे पर हैरानी की बात है कि जो खुद ही स्वच्छ नहीं, वह किसी चीज को साफ कैसे कर सकती है।

फिर बाजार में साबुन की टिकिया आई जिसे लोग बर्तन साफ करने के लिए इस्तेमाल करने लगे। एक ही स्क्र बर से बार-बार टिकिया को घिसने और बर्तन साफ करने के कारण गंदगी स्क्र बर के बीच में ही घुसी रहती है। टिकिया से बर्तन साफ करने के बाद भी उसके कण बर्तनों में चिपके रह जाते हैं। कुछ लोग डिटरजेंट पाउडर का इस्तेमाल करते हैं लेकिन यह काफी झाग छोड़ता है।

यदि बर्तन पूरी तरह साफ न हुए हों तो उनमें चिपके कीटाणु हमारे पेट में भी चले जाते हैं जिससे पेट में इंफेक्शन, डायरिया, कॉलरा जैसी घातक बीमारियों का सामना करना पड़ सकता है।

अपनाइए कुछ नया: बर्तनों को अच्छी तरह और कम मेहनत से धोने की इच्छा आज हर महिला की है। इसी जरूरत को ध्यान में रखते हुए बाजार में आधुनिक तरीकों से बने लिक्विड क्लीनर पेश किए गए हैं। इनसे बर्तनों को साफ करना आसान बन गया है।

आधुनिक तकनीक: आमतौर पर सभी लिक्विड क्लीनर बैलेंस्ड पीएच फार्मूले से बने होते हैं। इन्हें बनाने के लिए लाइम और विनेगर का इस्तेमाल किया जाता है। ये बर्तनों को पारंपरिक साधनों से बेहतर साफ कर सकते हैं। एंटीबैक्टीरियल होने के कारण ये बर्तनों को जर्म फ्री बनाते हैं।

आमतौर पर लिक्विड क्लीनरों में टॉक्ंसस का इस्तेमाल नहीं होता, इसलिए ये पूरी तरह से सुरक्षित होते हैं। जिद्दी दागों व तले से जलने के कारण बर्तनों पर दाग-धब्बे पड़ जाते हैं, जो देखने में बहुत भद्दे लगते हैं लेकिन लिक्विड क्लीनर ऐसे केमिकल्स से बनाए जाते हैं जिनसे जिद्दी दाग भी हट जाते हैं।

हर क्राकरी के लिए उपयुक्त: लिक्विड क्लीनरों से सभी तरह के बर्तन जैसे बोनचाइना, मैलामाइन, कांच व स्टील के बर्तनों को आसानी से धोया जा सकता है। बार या पाउडर के प्रयोग से इन पर स्क्र बर के घिसने से निशान पड़ जाते हैं व इन्हें साफ करने के लिए काफी मेहनत भी करनी पड़ती है लेकिन लिक्विड क्लीनरों से इन्हें घिसना नहीं पड़ता जिससे डेलीकेट क्राकरी भी सुरक्षित तरीके से साफ की जा सकती है। आज बाजार में कई लिक्विड क्लीनर उपलब्ध हैं जैसे प्रिल, डिश वाशिंग, निप इत्यादि। इनके दाम करीब 50 रूपए हैं। इनसे बर्तनों को साफ करने के लिए प्रत्येक बर्तन के लिए एक-दो बूंदें ही काफी होती हैं।

स्किन फ्रैंडली: अन्य साधनों से बर्तन साफ करने से हाथों की त्वचा रूखी होकर फटने लगती है लेकिन लिक्विड क्लीनर स्किन फ्रैंडली होते हैं। इनको बनाने के लिए हार्श केमिकल्स का प्रयोग नहीं किया जाता। लिक्विड क्लीनर द्वारा बर्तन धोने में स्क्र बर के स्थान पर स्टैंडिंग ब्रश का इस्तेमाल करना चाहिए। इससे बर्तन साफ करना ज्यादा आसान हो जाता है क्योंकि बिना टच किए ही बर्तनों को आसानी से घिसा जा सकता है। बस एक बूंद डालें और ब्रश से साफ करें।

- नरेन्द्र देवांगन

Share it
Top