खुश मिजाज रहकर जीने के कुछ सूत्र

खुश मिजाज रहकर जीने के कुछ सूत्र

- अच्छा साहित्य पढ़ें और उच्च मूल्यों को अपनाएं।

- अच्छे दोस्त चुनें। वे सदैव आपको अच्छे कार्यों हेतु प्रेरित करेंगे।

- आपका जीवन जीने का ढंग बेशक साधारण हो, किंतु अपने दिमाग में सदैव उच्च विचार लाएं।

- सादा जीवन, उच्च विचार वाली उक्ति को अपनाएं।

- अपनी सामाजिक जिम्मेदारियों को नजरअंदाज न करें। कभी-कभी समय निकालकर बेसहारा व अनाथ बच्चों से मिलें व यथासंभव उनकी मदद करें।

- किसी के मन को चोट न पहुंचाएं। सदैव सबका भला सोचें।

- निंदा, चुगली से बचें। सकारात्मक सोचें। नकारात्मक विचारों को मन में जगह न बनाने दें।

- बड़ों को सम्मान दें व छोटों को भरपूर प्यार दें।

- सिर्फ अपनी ही न कहें। दूसरों को भी सुनें।

- स्वयं से निम्न स्तर के लोगों से घृणा न करें बल्कि उन्हें भी बराबर का दर्जा दें।

- अपनी योग्यता, दौलत, इत्यादि का कभी भी घमंड न करें बल्कि इनका सदुपयोग करें।

- प्रात: काल उठकर भगवान से प्रार्थना करें कि वह सबका भला करे जो उसने दिया है, उसके लिए भगवान का शुक्रिया अदा करें।

- भाषणा बांसल

Share it
Top