चेहरे पर असमय आती झुर्रियां

चेहरे पर असमय आती झुर्रियां

लड़का हो या लड़की, सभी चाहते हैं कि उनका चेहरा हरदम खिला-खिला सा रहे लेकिन ऐसा नहीं होता। अचानक चेहरे पर आई झुर्रियों के कारण चांद-सा सलोना चेहरा सलवटों से भरकर असुन्दर हो जाता है।

वैसे तो उम्र बढऩे के साथ चेहरे पर झुर्रियां उभर आना प्राकृतिक क्रिया है और इसे पूर्णरूपेण रोका भी नहीं जा सकता है लेकिन सौन्दर्योपचार को अपना कर इसकी रफ्तार को कम किया जा सकता है और बड़ी उम्र तक त्वचा को झुर्रियों से बचाए रखा जा सकता है।

उम्र बढऩे के साथ त्वचा की प्राकृतिक वसा कम होने लगती है। पुरानी कोशिकाएं व रेशे बेजान हो जाते हैं जिससे त्वचा का कसाव और लचीलापन कम होने लगता है। फलत: त्वचा पर झुर्रियां उभरने लगती हैं।

कारण:-

- मानसिक असंतुलन व अधिक शारीरिक एवं मानसिक परिश्रम से त्वचा पर असमय झुर्रियां पडऩे लगती हैं।

- वातावरण में बढ़ते प्रदूषण के कारण वायुमंडल की ओजोन परत कुछ पतली हो गयी है जिसके कारण सूर्य की किरणों के साथ पराबैंगनी किरणें अधिक मात्रा में पहुंचती हैं जबकि मात्र एक प्रतिशत आनी चाहिए। इसलिए प्रतिदिन अधिक समय तक तेज धूप में रहने से त्वचा की कोशिकाओं में टूट-फूट होने लगती है जिससे असमय ही चेहरे पर झुर्रियां दिखने लगती हैं।

- तेज एलोपैथिक औषधियों के अधिक सेवन से असमय चेहरे पर झुर्रियां आने लगती हैं।

- ईष्र्या, तनाव, क्रोध व चिंता आदि का भी चेहरे की त्वचा पर बुरा प्रभाव पड़ता है। इनके कारण हमारी मांसपेशियों में तनाव आता है जो चेहरे पर धारियों के रूप में दिखलाई देता है। आगे चलकर यही धारियां स्थाई रूप अख्तियार कर लेती हैं और चेहरा झुर्रियों युक्त हो जाता है।

- मेकअप करने से मेकअप सामग्री त्वचा के रोमकूपों को बंद कर देती है। फलत: प्राकृतिक रूप से त्वचा में श्वसन नहीं हो पाता अत: असमय ही चेहरे की त्वचा पर झुर्रियां उभरने लगती हैं।

- अधिक आधुनिक सौंदर्य प्रसाधनों का उपयोग भी झुर्रियों का कारण बनता है। इन सौंदर्य प्रसाधनों में तेज रसायनों का प्रयोग होता है जिससे त्वचा को नुकसान पहुंचता है फलत: असमय ही चेहरे की त्वचा पर झुर्रियां दृष्टिगोचर होने लगती हैं।

चेहरे की त्वचा पर बढ़ती उम्र के साथ उभरती झुर्रियों को रोका तो नहीं जा सकता लेकिन झुर्रियों के उभरने की रफ्तार को कुछ हद तक कम किया जा सकता है और काफी समय तक चेहरे को झुर्रियों से मुक्त रखा जा सकता है। सही और उचित सौंदर्य उपचार त्वचा को झुर्रियों रहित बनाये रखने में काफी सहायक है। झुर्रियों से बचने के लिए इन उपायों को अपनाएं:-

- मालिश झुर्रियों से त्वचा को बचाने का बेहतर उपाय है। नियमित मालिश से मांसपेशियों में कसाव आता है। फलत: असमय चेहरे की त्वचा पर आई झुर्रियां दूर हो जाती हैं। मालिश के लिए बादाम या जैतून का तेल इस्तेमाल करें।

- प्रसाधन सामग्रियों का कम से कम इस्तेमाल करें और सोने से पहले मेकअप को अच्छी तरह साफ कर लें।

- तेज धूप में ज्यादा देर न रहें और तेज धूप में जाते वक्त धूप का चश्मा अवश्य पहनें।

- हमेशा संतुलित और पौष्टिक आहार ग्रहण करें। इससे शारीरिक अंगों की कार्यक्षमता बढ़कर त्वचा को भी पर्याप्त पोषण मिलता है। शरीर स्वस्थ बना रहे, इसके लिए वैसे खाद्य पदार्थ भोजन में शामिल करें जिनमें विटामिन ए, बी, सी, लौह तत्व पर्याप्त मात्रा में हों।

- पानी काफी मात्रा में पिएं।

- चेहरे को सदा आरामदेह मुद्रा में रखें। इससे चेहरे पर जल्दी झुर्रियां नहीं पड़तीं।

- बेसन में दही मिलाकर चेहरे पर लगाएं और लेप के सूख जाने पर चेहरे को साफ पानी से धो लें। ऐसा कुछ दिनों तक नियमित रूप से करने से झुर्रियां मिटती हैं।

- अत्यंत आवश्यक होने पर ही तेज एलोपैथिक दवाइयों का प्रयोग करें। इनके दुष्प्रभाव के कारण भी चेहरे पर झुर्रियां पड़ती हैं।

- वैसे सर्जरी झुर्रियों को हटाने का सबसे कारगर तरीका है। फेस लिफ्ट के आपरेशन से चेहरे की त्वचा में कसाव आ जाता है लेकिन 4-6 वर्ष बाद पुन: चेहरे पर झुर्रियां पडऩे लगती हैं।

- अर्पिता तालुकदार

[रॉयल बुलेटिन अब आपके मोबाइल पर भी उपलब्ध, ROYALBULLETIN पर क्लिक करें और डाउनलोड करे मोबाइल एप]

Share it
Top