अपनी पत्नी से कुछ न छिपायें

अपनी पत्नी से कुछ न छिपायें

हर समझदार पति का कर्तव्य है कि वह अपनी पत्नी को अपने आर्थिक संसाधनों से होने वाली सम्पूर्ण आय का ब्यौरा बताए। पत्नी को यह मालूम होना चाहिए कि पति का वेतन क्या है और उसकी कमाई के क्या स्रोत हैं।

आपने किसी से रूपये उधार लिए हैं या किसी को ऋण दिया है, आप अपनी आय का विनियोग किस प्रकार करते हैं, बैंकों में जमा राशि, शेयर्स व अन्य क्षेत्रों में किस-किस के नाम से कितना विनियोग कर रखा है, उसकी जमा रसीदें, प्रमाण पत्र और विवरण, किस-किस बैंक में खाते हैं, फिक्स डिपोजिट इत्यादि की जानकारी भी पत्नी और परिवार को होनी आवश्यक है। रॉयल बुलेटिन की नई एप प्ले स्टोर पर आ गयी है।royal bulletin news लिखे और नई app डाउनलोड करें

कभी-कभी पति के पास अथाह संपत्ति होती है। ऐसे में अचानक पति की मौत होने पर सारे राज उसी के साथ दफन हो जाते हैं जिसके परिणामस्वरूप, बूढ़े मां-बाप, पत्नी व अबोध बच्चे दर-दर की ठोकरें खाने पर मजबूर हो जाते हैं। कुछ लोग बहुत सारी बेनाम संपत्ति फर्जी नामों से रखते हैं लेकिन सही जानकारी के अभाव में उनका परिवार एक-एक पैसे को तरस जाता है।

जीवन बीमा पॉलिसी, भविष्य निधि, सामूहिक बीमा, ग्रेच्युटी, पेंशन आदि के बारे में तथा इन सबके नामांकन से पत्नी को अवश्य अवगत कराएं। यदि आप व्यवसायी हैं या व्यापारी हैं तो अपने क्षेत्र में मुनाफा या घाटा होने पर भी पत्नी को अवश्य बताएं। रिश्तेदार, भाई व मित्र भी समय आने पर आपसे मुंह फेर सकते हैं लेकिन पत्नी आपके दुख-सुख की साथी होती है, अत: अपनी पत्नी से कुछ न छिपाएं।

यदि आप अपनी किसी संपत्ति या मकान, दुकान को बेचना चाहते हैं तो भी पत्नी की सहमति अवश्य लें। आपकी पत्नी कम पढ़ी-लिखी हो या नौकरी पेशा हो, आपका प्रथम कर्तव्य है कि आप उससे किसी प्रकार का दुराव-छिपाव न रखें। पति-पत्नी का संबंध विश्वास, त्याग एवं समर्पण पर टिका होता है। एक-दूसरे की उपेक्षा न करें। अपनी आय-व्यय, बचत के बारे में उसे अवश्य बतायें। तभी घर-परिवार सुखी व समृद्ध रह सकता है।

- कर्मवीर अनुरागी

रॉयल बुलेटिन की नई एप प्ले स्टोर पर आ गयी है।royal bulletin news लिखे और नई app डाउनलोड करें

Share it
Top