शिशु की देखभाल के लिए कुछ जरूरी टिप्स

शिशु की देखभाल के लिए कुछ जरूरी टिप्स

नवजात शिशुओं की देखभाल सही ढंग से करना माताओं के लिए एक समस्या बन जाती है। थोड़ी सी चूक अथवा अज्ञानता के कारण बड़ी मुश्किल का भी सामना करना पड़ सकता है। पहले ऐसा होता था कि घर की बड़ी बूढ़ी महिलाएं इन बच्चों की देखभाल में काफी ध्यान रखती थी लेकिन आधुनिक शहरी परिवेश में जहां परिवार का दायरा काफी छोटा हो गया है, पति-पत्नी को ही घर से बाहर तक की जिम्मेदारी निभानी पड़ रही है। ऐसे में दंपतियों के लिए पेश हैं बच्चों की देखभाल के कुछ उपयोगी टिप्स:-

- बच्चों की मालिश के लिए नारियल तेल में एक बादाम गिरी डालकर गर्म करें। ठंडा होने पर इसे छान लें। इस तेल की मालिश करने से बच्चों की त्वचा मुलायम व चमकदार बनती है। इस तेल का सेवन किसी भी मौसम में किया जा सकता है।

- एक नारंगी का रस प्रतिदिन पिलाने से नवजात शिशु का रंग साफ होता है, तथा हृष्ट-पुष्ट एवं गोलाकार शरीर बनता है।

- नन्हें शिशु को हृष्ट-पुष्ट बनाने के लिए छिलका सहित आलू धोकर महीन काट लें। इसका रस निकालकर दूध या शहद के साथ में दो बार चटाने से शिशु कुछ ही दिनों में हृष्ट-पुष्ट हो जायेगा।

- गाय के घी से सिर पर मालिश करने से बच्चों की बुद्धि का विकास होता है।

- चावल का मांड़ नमक के साथ मिलाकर पिलाने से बच्चों को ताकत मिलती है।

- दुर्बल बच्चों को मिश्री पीसकर घी में मिलाकर एक चम्मच सुबह शाम चटाने से बच्चा हृष्ट-पुष्ट होता है। साथ ही उसकी शक्ति बढ़ती है।

- बड़े बच्चों को सौंफ का चूर्ण शहद के साथ देने से उसकी स्मरण शक्ति का विकास होता है।

- नन्हें बच्चों के प्रतिदिन शहद चटाने से वह तंदुरूस्त होता है। साथ ही दांत निकलने में आसानी होती है।

- बच्चे के स्नान करने वाले जल में थोड़ा नमक डालने से त्वचा की बीमारियों से बचाव होता है।

- बच्चों को सदैव मुलायम व आरामदायक कपड़े पहनाएं। बिना धोये व सुखाये दूसरे बच्चों के कपड़े नहीं पहनायें।

- बच्चों के पेट के कीड़े कच्ची हल्दी को गुड़ के साथ खिलाने से नष्ट हो जाते हैं।

- नर्मदेश्वर प्रसाद चौधरी

Share it
Top