ऐसे करें वस्त्रों का चुनाव

ऐसे करें वस्त्रों का चुनाव

आधुनिक युग सौंदर्य का युग है। आज नारी सौंदर्य के प्रति अधिक सचेत है। उसे तरह-तरह के सौंदर्य प्रसाधनों की आवश्यकता होती है। उसकी इसी आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए कम्पनियां नये उत्पाद बनाने में लगी हैं।

महिलाएं श्रृंगार व कपड़ों के प्रति आकर्षित रहती हैं। नया व आधुनिक डिजाइन बाजार में देखते ही उनके मन में उसे प्रयोग करने की इच्छा बलवती हो उठती है। वे जल्दबाजी व अपने को अधिक आधुनिक कहलवाने की होड़ में कई बार कपड़ों व सौंदर्य प्रसाधनों का गलत चयन कर लेती हैं। ऐसा करने से वे फूहड़ कहलाती हैं। उम्र, रंगरूप व शरीर के अनुसार ही वस्त्रों का चयन करना अति आवश्यक है।

40-60 वर्ष तक की महिलाओं को अपनी उम्र के अनुसार ही कपड़े पहनने चाहिए। यदि आप इस आयु में मिनी स्कर्ट पहनेंगी अथवा गहरा मेकअप करेंगी तो इससे आप दूसरों के समक्ष हंसी का पात्र बन जाएंगी। यदि आपका शरीर भारी है तो चुस्त कपड़े कदापि न पहनें।

महिलाएं अपनी उम्र को छिपाने के उद्देश्य से किशोरियों जैसे कपड़े पहनेंगी व मेकअप करेंगी तो यह बहुत भद्दा लगेगा। शालीन वस्त्र व सादा मेकअप ही इस आयु में उपयुक्त रहता है।

20 से 30 वर्ष तक की युवतियां किसी भी प्रकार के कपड़े पहन सकती हैं मगर यहां यह बात अवश्य ध्यान में रखनी चाहिए कि दूसरों की नकल न करके अपने रंगरूप व शरीर के हिसाब से ही कपड़े पहनें। अपने आसपास व परिवार के माहौल को भी ध्यान में रखना आवश्यक है।

आमतौर पर इस उम्र में युवतियों के मन में यह धारणा बनी रहती है कि वे कोई भी वस्त्र पहनने को स्वतंत्र हैं मगर उन्हें यह नहीं भूलना चाहिए कि इसका सलीका होना भी उतना ही जरूरी है।

बेढंगे कपड़े पहनने से जहां आप दूसरों के मजाक की पात्र बनेंगी, वहीं आपके व्यक्तित्व पर भी इसका प्रतिकूल प्रभाव पड़ेगा। यदि आपका रंग सांवला है तो अधिक गहरे व भड़कीले कपड़े पहनने से आपका रंग अधिक काला नजर आयेगा।

अगर आप ज्यादा पतली हैं तो चुस्त कपड़े कदापि न पहनें। इससे आप अधिक पतली दिखाई देंगी। ढीले वस्त्र पहनना ही श्रेयस्कर है। यदि आपका शरीर सुगठित है तो आप चुस्त कपड़ों का प्रयोग शान से कर सकती हैं। कपड़ों के चुनाव में अपने शरीर की बनावट व रंगरूप को ध्यान में रखना अति आवश्यक है ताकि जो भी वस्त्र आप पहनें, वह आपके व्यक्तित्व में निखार लाए।

वस्त्रों से ही व्यक्तित्व की परख होती है अत: व्यक्तित्व को निखारने हेतु उम्र के अनुसार कपड़ों का चयन करना अति आवश्यक है। कपड़ों का चयन गंभीरतापूर्वक करें। अंधानुकरण करने से बचें। इससे आपकी शोभा घट सकती है। यदि आप सही ढंग से व सावधानीपूर्वक वस्त्रों का चयन करेंगी तो आप कुछ ही है।

- भाषणा बांसल

Share it
Top