टूटे-फूटे नाखूनों की देखभाल

टूटे-फूटे नाखूनों की देखभाल

नाखून सुंदर हाथों का आइना हैं। अगर नाखून उबड़ खाबड़ या टूटे फूटे हैं तो लंबे पतले हाथ भी देखने में सुंदर नहीं लगेंगे। नाखून हैल्दी हैं तो हाथों की शोभा और बढ़ जाती है। अगर आपके नाखून टूटे फूटे हैं या भुरभुरा कर टूट जाते हैं तो ध्यान दें अपने नाखूनों की ओर ताकि उन्हें समय रहते बचाया जा सके।

नाखूनों पर तेल लगाएं - अपने नाखूनों पर बादाम का तेल या ऑलिव आयल लगाएं। इससे नाखून मजबूत और हैल्दी रहेंगे। अगर आपके नाखून पतले हैं तो उन पर नींबू का रस या सिरका रगड़े लाभ मिलेगा।

नाखूनों पर कॉस्मेटिक अच्छी क्वालिटी का प्रयोग करें - नाखूनों पर नेल पालिश अच्छी क्वालिटी की लगाएं। अगर आप उन पर नेल क्रीम भी लगाती हैं तो उसकी क्वालिटी पर ध्यान दें। घटिया कंपनी के प्राडक्ट्स प्रयोग करने पर नाखूनों में क्रेक पड़ जाते हैं जो बिना वजह टूटते रहते हैं। नेल पालिश रिमूवर भी एसीटोन फ्री लगाएं। एसीटोन वाला नेलपालिश रिमूवर नाखूनों की बाहरी सतह को खुश्क बना देता है।

नियमित मालिश करें नाखूनों की - नियमित रूप से नाखूनों की मालिश किसी अच्छी नेल क्रीम से करें। इससे नाखूनों में चमक बनी रहती है और नाखूनों की दीवारें भी नर्म रहती हैं। सप्ताह में कम से कम तीन बार नाखूनों की मालिश करें।

नाखूनों की देखरेख के लिए रूटीन बनाएं - हर 10-15 दिन के भीतर नाखूनों को ट्रिम करें ताकि नाखून टेढ़े मेढ़े न बढ़ें। पंद्रह दिन के अंतराल में मैनीक्योर करें या करवाएं। ध्यान रहे किसी अच्छे पार्लर से मैनीक्योर करवाएं।

पौष्टिक आहार - पौष्टिक आहार का सेवन अति आवश्यक है क्योंकि पौष्टिक आहार हमारे शरीर के विभिन्न अंगों को अंदर से पुष्ट रखता है। आहार वो लें जिसमें आयोडीन, विटामिन ए, कैल्शियम और लौह तत्व की उपर्युक्त मात्रा हो।

इसके अतिरिक्त नाखूनों को चबाएं नहीं। तेज डिटरजेंट का प्रयोग न करें। अधिक पानी वाले काम करने से भी नाखून कमजोर होते हैं और भुरना शुरू हो जाते हैं। इससे बचने के लिए ग्लव्स का प्रयोग करें जब बर्तन साफ करें, सब्जियां धोएं और सब्जियां काटते समय भी। थोड़ी सी एक्स्ट्रा केयर से हम नाखूनों की टूट-फूट का ध्यान रख सकते हैं।

- सुदर्शन चौघरी

Share it
Share it
Share it
Top