जब हो जाए प्यार में ब्रेकअप

जब हो जाए प्यार में ब्रेकअप

प्यार एक सहज अनुभूति है। प्यार किया नहीं जाता, हो जाता है। इक_े घूमते फिरते, मौज मस्ती, करते करते कब आपको प्यार हो जाता है, पता ही नहीं चलता।

प्यार एक ऐसा अहसास है जिसके होने पर लगता है मानो सारा जहान आपको मिल गया है। दुख आपसे दूर और सुख आपके साथ होता है, दुनियां खूबसूरत लगती है परंतु जब प्यार टूटता है, आपका ब्रेकअप होता है तो जीने का मकसद ही नहीं रहता। सोच नकारात्मक हो जाती है। ऐसा महसूस होता है कि हम किसी के काबिल नहीं हैं।

इस बीच यदि आपको कोई प्यार से सहानुभूति के दो शब्द बोल देता है तो आप उसकी ओर खिंची चली जाती हैं। यह रिश्ता प्यार का नहीं, आकर्षण व सहानुभूति का होता है। इस रिश्ते को अपनाते समय कुछ बातों को ध्यान में रखिये ताकि फिर से आपको वह दु:ख भरा अहसास न सहना पड़े।

- यदि आप का ब्रेकअप हुए अभी कुछ दिन हुए हैं और फिर किसी से नए रिश्ते जुड़ रहे हैं तो जल्दबाजी न करें। सबसे पहले खुद को मजबूत बनाएं। सिर्फ अपने लिए जिएं, अपना समय अपने साथ गुजारें। तभी आप में परेशानी को झेल पाने की क्षमता आएगी।

- किसी तीसरे इंसान के प्यार के दो बोलों से आप ज्यादा उम्मीदें न लगाएं। अक्सर लोग सामने वाले के बर्ताव को सामान्य नहीं लेते और उसमें भी प्यार की तलाश करने लगते हैं।

- ब्रेकअप होने का यह मतलब नहीं है कि आप किसी ऐसे आदमी के साथ जिंदगी बिताने का फैसला कर लें जो आपके काबिल ही न हो। अपनी उम्मीदों पर खरा उतरने के पश्चात् ही किसी दूसरे से रिश्ता जोड़ें।

- आप जिस लड़के को पसंद करने लगती हैं, यदि वह स्मोक व ड्रिंक लेता है और आपको भी पीने के लिए प्रोत्साहित करता है तो सावधान हो जाएं। यह लड़का आपको गलत रास्ते की ओर ले जा रहा है। वह आपके प्यार के काबिल नहीं, मात्र आपका लाभ उठाना चाहता है।

- कुछ लोग ब्रेकअप होने पर इतने ज्यादा भावुक हो जाते हैं कि कोई भी फैसला बिना सोचे समझे ले लेते हैं। यहां तक अपनी नौकरी को भी दांव पर लगा देते हैं, या पहले प्यार को भुलाने के लिए किसी और लड़के या लड़की से शादी कर लेते हैं। यह जल्दबाजी वाला फैसला आपकी जिंदगी को तबाह कर सकता है। ब्रेकअप होने पर कई महीनों तक कोई नया कदम न उठायें।

- जिस लड़के या लड़की से आपका ब्रेकअप हो चुका है, फिर भी उसकी याद आपको आती रहती है या आप किसी न किसी रूप में उसका जिक्र करते रहते हैं तो ऐसा न करें क्योंकि ऐसे रिश्ते को याद करने का कोई फायदा नहीं जो नए रिश्ते को सुकून व शांति न दे पाए।

- शैली माथुर

Share it
Share it
Share it
Top