सुरक्षित काल-कितना सुरक्षित

सुरक्षित काल-कितना सुरक्षित

तेजी से बढ़ती आबादी आज भी एक ज्वलंत समस्या बन गई है। अगर इसे सख्ती से नहीं दबाया जायेगा तो भविष्य में अनेकों समस्याएं पैदा होंगी। इस समस्या के समाधान के लिए परिवार नियोजन अत्यंत आवश्यक है।

इस दिशा में सरकारी प्रयास से परिवार नियोजन के लिए बंध्याकाल आपरेशन से लेकर निरोध, कॉपर टी और खाने व बाहरी उपयोग के लिए कई औषधियां आदि उपलब्ध हैं जिनका उपयोग करके संतति नियमन आसान हो गया है। सुरक्षित अवधि या काल में सहवास करके भी गर्भधारण होने को रोका जा सकता है।

यह सुरक्षित अवधि या काल क्या है?

इस अवधि में सहवास करके गर्भाधान को कैसे रोका जा सकता है? सुरक्षित काल के बारे में अधिकांश लोगों को जानकारी नहीं है। औरत के मासिक धर्म की अवधि में कुछ दिन ऐसे होते हैं जिसके दरम्यान औरत के साथ सहवास करने से गर्भधारण नहीं हो सकता। इन्हीं विशिष्ट दिनों को सुरक्षित अवधि या काल कहा जाता है।

स्त्री के शरीर में अंडाशय से प्रति माह एक अंडाणु का उत्सर्जन होता है जो करीब 48 घंटे तक जीवित रहता है। अगर इस अवधि के अन्दर औरत का पुरूष से शारीरिक संबंध हो, तब वह गर्भ धारण कर सकती है अन्यथा नहीं।

रॉयल बुलेटिन की नई एप प्ले स्टोर पर आ गयी है।royal bulletin news लिखे और नई app डाउनलोड करें

अंडाणु का उत्सर्जन अगली मासिक धर्म की अवधि से 14-16 दिन पूर्व होता है। यदि किसी स्त्री को माहवारी नियमित रूप से 28 दिन बाद हो तो उसमें अंडाणु का उत्सर्जन 13वें तथा 14 वें दिन के बीच होगा। यह दिन माहवारी के महीने के मध्यम में होगा। यदि माहवारी का अवधि क्रम छोटा-बड़ा हो तो अंडाणु का उत्सर्जन जल्दी या देर से होगा। यदि किसी स्त्री को मासिक धर्म प्रति 24 दिन बाद हो तो उसमें अंडोत्सर्ग मासिक धर्म के प्रारंभ होने के दसवें दिन तथा मासिक धर्म 32 दिन पर होने पर अंडोत्सर्ग 17 वें तथा 19 वें दिन के बीच होगा।

इस प्रकार मासिक धर्म के प्रारंभ तथा अंडोत्सर्ग के बीच के दिनों संख्या में भारी अंतर हो सकता है लेकिन अंडोत्सर्ग तथा अगले मासिक धर्म के प्रारंभ के बीच के दिनों की संख्या प्राय: 14 से 15 दिन होती है जिसे सुरक्षित काल माना जा सकता है। दिनों की गिनती में गलती होने पर सुरक्षित काल असुरक्षित भी हो सकता है, इसलिए सुरक्षित काल अवांछित गर्भ से बचने के लिए पूर्णत: सुरक्षित नहीं है।

- अर्पिता तालुकदार

रॉयल बुलेटिन की नई एप प्ले स्टोर पर आ गयी है।royal bulletin news लिखे और नई app डाउनलोड करें

Share it
Top