लगने वाले 12 महा रोजगार मेलों में 25 हजार युवाओं को मिलेगा रोजगार : नायब

लगने वाले 12 महा रोजगार मेलों में 25 हजार युवाओं को मिलेगा रोजगार : नायब



करनाल। हरियाणा सरकार प्रदेश मेें समान अवसर-समान विकास की अवधारणा के साथ युवाओं को रोजगार के साथ जोड़ने के लिए वचनबद्धता पर कायम है। इसे लेकर वर्ष 2019 में 12 महा रोजगार मेलों का आयोजन होगा जिसमें 25 हजार बेरोजगार युवाओं को रोजगार मिलेगा। प्रदेश के श्रम एवं रोजगार मंत्री नायब सिंह सैनी ने रविवार को पंडित चिरंजी लाल शर्मा राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय में रोजगार विभाग की ओर से आयोजित ऐसे प्रथम महा रोजगार मेले का दीप प्रज्जवलित कर शुभारम्भ किया। इसी दौरान उन्होंने युवाओं को सम्बोधित करते हुए यह जानकारी दी।

इस मौके पर मंत्री ने कॉलेज परिसर में पौधारोपण करके पर्यावरण को स्वच्छ बनाए रखने का संदेश भी दिया। मंत्री ने कहा कि हरियाणा सरकार युवाओं को पारदर्शी, साक्षात्कार मुक्त एवं मेरिट के आधार पर सरकारी नौकरी दे रही है, अब तक करीब 55 हजार युवाओं को नौकरियां प्राप्त हुई हैं। हरियाणा देश का ऐसा पहला प्रदेश है, जहां शिक्षित युवा भत्ता एवं मानदेय योजना शुरू की गई है।

सक्षम युवा के नाम से लोकप्रिय इस योजना के तहत पात्र 10वीं, स्नातक, स्नातकोत्तर, विज्ञान, इंजीनियरिंग तथा वाणिज्य स्नातकों को एक सक्षम पोर्टल पर पंजीकरण करने के बाद रोजगार से जोड़ा गया है।

उन्होंने बताया कि 31 दिसम्बर तक प्रदेश के विभिन्न जिलो से 69 हजार 336 ऐसे सक्षम युवाओं के आवेदन अनुमोदित कर 49 हजार 540 को विभिन्न विभागों में मानद कार्य प्रदान किए गए हैं। इसके तहत उन्हें 100 घण्टे कार्य करने के एवज में 9 हजार व 7500 रुपये प्रतिमाह मानदेय दिया जा रहा है।

श्रम एवं रोजगार मंत्री ने बताया कि बीते साढे 4 वर्षो में हरियाणा सरकार ने प्रदेश में 335 रोजगार मेलों का आयोजन कर 26 हजार 547 बेरोजगार युवकों को निजी क्षेत्रों में समायोजित करवाया है।

इसके अतिरिक्त जिला रोजगार कार्यालयों के माध्यम से युवाओं को कौशल प्रशिक्षण दिया जा रहा है। अब तक 3931 हजार युवाओं को स्किल डेवलपमेंट मैनेजमेंट के तहत कौशल प्रशिक्षण दिया जा चुका है।

इसी प्रकार 17 हजार 313 बेरोजगार युवाओं को ड्राईवर (सक्षम सार्थी) के रूप में ओला व ऊबर कम्पनियों के साथ एम.ओ.यू. करके रोजगार उपलब्ध करवाया गया है तथा 641 युवाओं को सुरक्षा गार्ड (सक्षम रक्षक) के रूप में जी-4 एस के साथ एम.ओ.यू. करके रोजगार उपलब्ध करवाया गया है। रोजगार विभाग द्वारा पात्र स्नातक व समकक्ष बेरोजगारों को जो सक्षम योजना के अधीन पात्र नहीं हैं, को क्रमश: 900 व 1500 रुपये बेरोजगारी भत्ता दिया जा रहा है।

महा रोजगार मेला के सन्दर्भ में उन्होने बताया कि इसके लिए नव ज्योति ग्लोबल सोल्यूशन्स प्राईवेट लिमिटेेड को अनुबंधित किया गया है, जिनके माध्यम से देश की करीब 100 नामित कम्पनियां आज रोजगार मेला में बेरोजगार युवाओं का रजिस्ट्रेशन कर उन्हें रोजगार से जोड़ने का कार्य करने के लिए आई हैं। इसमें खास बात यह है कि एक युवा अपनी पसंद की नौकरी के लिए किसी भी कम्पनी का चुनाव कर सकता है। उन्होंने उपस्थित युवाओं को इसके लिए शुभकामना भी दी|

इस अवसर पर रोजगार विभाग हरियाणा के महानिदेशक टी.एल. सत्यप्रकाश, एसडीएम करनाल नरेन्द्र पाल मलिक, इन्द्री के एसडीएम सुमित सिहाग, रोजगार विभाग की संयुक्त निदेशक दर्शना भारद्वाज, उपनिदेशक सुमन गहलोत तथा कॉलेज की प्राचार्य रेखा शर्मा के अतिरिक्त भाजपा जिला महामंत्री योगेन्द्र राणा, नगर पार्षद मेघा भण्डारी, प्रदेश कार्यकारणी के सदस्य जयपाल वाल्मिकी तथा भाजपा कार्यकर्ता सतीश पांचाल सहित रोजगार विभाग के अधिकारी नैन सिंह राठी, सीमा कौशिक, नीरज जिंदल, नृपेन्द्र, उर्मिल श्योकंद सहित कॉलेज स्टाफ उपस्थित थे ।

Share it
Top