कुलसुम नवाज के अंतिम संस्कार के लिए नवाज शरीफ, मरियम पेरोल पर

कुलसुम नवाज के अंतिम संस्कार के लिए नवाज शरीफ, मरियम पेरोल पर


इस्लामाबाद/ लंदन। पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ, उनकी बेटी मरियम नवाज और उनके दामाद कैप्टन (सेवानिवृत्त) मुहम्मद सफदर को पेरोल पर छोड़ा गया है। पेरोल की अवधि 12 घंटे की है। इन तीनों को पेरोल पर नवाज शरीफ की पत्नी कुलसुम नवाज के अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए छोड़ा गया है, जिससे वे इस्लामिक रीति-रिवाजों के मुताबिक कुलसुम नवाज को सुपुर्द-ए-खाक कर सकें। कुलसुम नवाज के अंतिम संस्कार के लिए तीनों रावलपिंडी से लाहौर गए हैं। लाहौर गए नवाज शरीफ, उनकी बेटी मरियम नवाज और उनके दामाद कैप्टन (सेवानिवृत्त) मुहम्मद सफदर तीनों भ्रष्टाचार के मामले में पाकिस्तान की रावलपिंडी जेल में बंद हैं।

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की पत्नी कुलसुम नवाज का मंगलवार को लंदन में निधन हो गया था। 68 साल की कुलसुम लंबे समय से बीमार चल रही थीं। कुलसुम नवाज का लंदन के हार्ले स्ट्रीट क्लीनिक में लंबे समय से इलाज चल रहा था। वह गले के कैंसर से पीड़ित थीं। उन्हें जीवन रक्षक प्रणाली पर रखा गया था। उन्हें कैंसर होने की जानकारी अगस्त, 2017 में मिली थी। कुलसुम का जन्म 1950 में लाहौर के प्रसिद्ध कश्मीरी परिवार में हुआ था, जो प्रसिद्ध गामा पहलवान परिवार से संबद्ध था। वे लाहौर के विश्वविद्यालय से स्नातक थीं और पाकिस्तान के पंजाब विवि से उर्दू में स्नातकोत्तर थीं। नवाज शरीफ से उनका विवाह अप्रैल, 1971 में हुआ था। कुलसुम नवाज पीएमएल-एन की 1999 से 2002 तक अध्यक्ष भी रही थीं। कुलसुम नवाज हाल ही में पाकिस्तान में लाहौर सीट से चुनाव जीती थीं।

Share it
Top