यूरोपीय संघ और भारत बनायेंगे निवेश सुविधा तंत्र

यूरोपीय संघ और भारत बनायेंगे निवेश सुविधा तंत्र

नयी दिल्ली। भारत में यूरोपीय देशों के निवेश को बढ़ावा देने और समन्वय करने के लिए भारत और यूरोपीय संघ ने एक निवेश सुविधा तंत्र स्थापित करने की घोषणा की है।
निवेश सुविधा केंद्र की स्थापना मार्च 2016 में 13 वीं यूरोपीय संघ- भारत शिखर बैठक के संयुक्त घोषणापत्र के अनुरूप होगी। निवेश सुविधा तंत्र के तहत भारत में यूरोपीय संघ के प्रतिनिधिमंडल और औद्योगिक नीति एवं संवर्धन विभाग ने यूरोपीय निवेशकों के लिए भारत में 'कारोबार के अनुकूल माहौल बनाने को नियमित बैठकें करने पर सहमति जताई है। इनमें यूरोपीय निवेशकों की समस्याओं का समाधान भी किया जाएगा। भारत में यूरोपीय संघ के राजदूत टी. कोस्लोवस्की ने कहा कि निवेश सुविधा तंत्र की स्थापना से दोनों पक्षों के बीच निवेश और व्यापार के संबंधों को मजबूती मिलेगी। भारत में यूरोपीय संघ सबसे बड़ा विदेशी निवेशक है और तंत्र की स्थापना से निवेश का माहौल बेहतर बनाने में मदद मिलेगी। औद्योगिक नीति एवं संवर्धन विभाग रमेश अभिषेक ने कहा कि कारोबार के अनुकूल माहौल बनाना सरकार के 'मेक इन इंडिया'अभियान का महत्पूर्ण हिस्सा है और निवेश सुविधा तंत्र की स्थापना इस दिशा में प्रमुख कदम है। इससे यूरोपीय कंपनियों को भारत में निवेश के विकल्प तलाशने में मदद मिलेगी।

Share it
Share it
Share it
Top