बंगलादेश के 2.7 लाख से अधिक रोहिंग्या शरणार्थियाें को पहचान पत्र जारी

बंगलादेश के 2.7 लाख से अधिक रोहिंग्या शरणार्थियाें को पहचान पत्र जारी

कॉक्स बाजार बंगलादेश में 2.7 लाख से अधिक रोहिंग्या शरणार्थियों को संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी और बंगलादेश सरकार ने शुक्रवार को पहचान पत्र जारी किया।

यूएनएचसीआर के प्रवक्ता आंद्रेज माहेसिस ने बताया कि म्यांमार से आये 2.70 लाख से अधिक रोहिंग्या शरणार्थियों को पंजीकृत कर पहचान पत्र जारी कर दिया गया है। संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी और बंगलादेश सरकार ने संयुक्त रूप से ये पहचान पत्र जारी किये हैं।

उन्होंने बताया कि पंजीकरण की प्रक्रिया पिछले वर्ष जून में शुरू की गयी थी। सरकार और यूएनएचसीआर ने अब तक 270348 शरणार्थियों (59842 परिवारों) को पहचान पत्र जारी किया है।

छह विभिन्न स्थानों पर प्रतिदिन चार हजार से अधिक शरणार्थियों का पंजीकरण किया जाता है। इन स्थानों पर कुल 450 से अधिक कर्मचारी लगातार काम करते हैं। इस वर्ष के आखिर तक सभी शरणार्थियों के पंजीकरण का काम पूरा कर लिये जाने का लक्ष्य है। इनमें से कई शरणार्थियों के पास अब तक कोई पहचान पत्र नहीं था और इस पहचान पत्र के मिलने से उन्हें वतन वापसी का अधिकार मिल जायेगा।

गौरतलब है कि म्यांमार में अगस्त 2017 में रोहिंग्या लोगों के खिलाफ हिंसक कार्रवाई के बाद 741000 रोहिंग्या लोगों ने वहां से भागकर बंगलादेश में शरण ली। कॉक्स बाजार स्थित शरणार्थी शिविर में फिलहाल 900000 से अधिक रोहिंग्या रह रहे हैं जिनमें से कुछ पहले से ही बंगलादेश में थे।

Share it
Top