इंडोनेशिया में भूस्खलन से 22 की मौत, कई लापता

इंडोनेशिया में भूस्खलन से 22 की मौत, कई लापता

जकार्ता इंडोनेशिया में मूसलाधार बारिश की वजह से अचानक आयी बाढ़ और भूस्खलन से सुमात्रा में मांडैलिंग नातल जिले के मौरा सालादी गांव में इस्लामिक आवासीय विद्यालय के 11 छात्रों सहित 22 लोगों की मौत हो गई। इंडोनेशिया की राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन एजेंसी (बीएनपीबी) ने बताया कि शुक्रवार को चारो ओर से पानी में घिरी इमारत गिर गयी और उसके मलबे में दब कर छात्रों की मौत हो गयी। कतर न्यूज एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक, उत्तरी सुमात्रा एवं पश्चिमी सुमात्रा प्रांत गुरुवार से हो रही बारिश से जलमग्न हो गये हैं।

बीएनपीबी प्रवक्ता सुतोपो नुग्रोहो ने बताया कि 22 लोगों की मौत के अलावा, कम से कम 12 लोगों के लापता होने और दो प्रांतों के चार जिलों में अन्य कई लोगों के घायल होने की खबरें हैं। श्री नुग्रोहो ने बताया कि आइक सलादी नदी में अचानक उफान आ गया जिससे नदी का पानी अपने साथ मिट्टी लेकर बह आवासीय विद्यालय के चारो ओर इकट्ठा हो गया। लापता लोगों की संख्या में वृद्धि हो सकती है क्योंकि कीचड़ धंसने और दीवारों के मलबे में कई लोग फंसे हो सकते हैं। खोज एवं बचाव अभियान जारी है लेकिन पहाड़ी और वन्य क्षेत्रों में बचाव अभियान में बाधा उत्पन्न हो रही है।

Share it
Top