सीरियाई शिविर में 117 बच्चों की मौत

सीरियाई शिविर में 117 बच्चों की मौत

दमिश्क। (शिन्हुआ) सीरिया के उत्तर पूर्व में विस्थापितों के लिए बने एक शिविर में प्रतिकूल मानवीय स्थितियों के कारण पिछले कुछ महीनों में 117 बच्चों की मौत हो गयी है। मानवाधिकार संगठन सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट््स ने बताया कि सीरिया के एक शिविर में कठोर मानवीय स्थितियों के कारण पिछलेे कुछ महीनों के दौरान 117 बच्चों की मौत हो गयी जिनमें से ज्यादातर 12 वर्ष से कम उम्र के थे। उसने बताया कि इनमें से 60 फीसदी बच्चों की मौत पिछले 19 दिन के भीतर हुई है। संयुक्त राष्ट्र सीरिया के अल होल शिविर में प्रतिकूल मानवीय स्थितियों के बारे में कई बयान जारी कर चुका है। उसने गुरुवार को अपने हालिया बयान में कहा था कि शिविर में दिसंबर 2018 से मानवीय संकट की स्थिति बनी हुई है। इस शिविर में लगभग 67000 लोग रहते हैं जिनमें से 90 प्रतिशत बागूज से जान बचाकर भागी महिलाएं और बच्चे हैं। बागूज सीरिया में आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट के कब्जे वाला आखिरी शहर है। संयुक्त राष्ट्र का कहना है कि इस शिविर में क्षमता से अधिक लोग रह रहे हैं और यह रहने के योग्य नहीं है। लोग बहुत खराब मौसम में भी जमीन पर सोने के लिए मजबूर हैं जिससे उनके स्वास्थ्य पर गंभीर खतरा मंडरा रहा है। मानवाधिकार संगठन ने बताया कि अमेरिका समर्थित सीरियन डेमोक्रेटिक फोर्सेज (एसडीएफ) ने बागूज में आईएस के खिलाफ अभियान स्थगित कर दिया है क्योंकि उसने एसडीएफ के कई सैनिकों को बंधक बना रखा है। एसडीएफ पूर्वी सीरिया में गत सितंबर से आईएस के खिलाफ अभियान चला रहा है।

Share it
Top