माओवादी विद्रोहियों ने फिलीपींस के राष्ट्रपति के सुरक्षा गार्डों पर हमला किया

माओवादी विद्रोहियों ने फिलीपींस के राष्ट्रपति के सुरक्षा गार्डों पर हमला किया

मनीला। फिलीपींस के दक्षिण मिनदानो में कल एक सुरक्षा नाके पर सैनिकों के वेश में छिपे माओवादी विद्रोहियों के हमले में राष्ट्रपति के सुरक्षा दस्ते के चार गार्ड घायल हो गए। सेना ने आज यह जानकारी दी। माना जा रहा है कि इस घटना से सरकार और कम्युनिस्ट विद्रोहियों की हथियारबंद इकाई नेशनल डेमोक्रेटिक फ्रंट के बीच शांति वार्ता खटाई में पड़ सकती है। यह प्रस्तावित शांति वार्ता इस हफ्ते के अंत में नीदरलैंड में होनी है और इसमें देश में 50 वर्षों से जारी विवाद को सुलझाने की दिशा में बातचीत होनी है। पिछले 50 वर्षों में दोनों तरफ से हिंसक झड़पों में 40 हजार से अधिक लोग मारे जा चुके हैं।
सुरक्षा दस्ते के प्रमुख कमांडर ब्रिगेडियर जनरल लुई दागोय ने आज पत्रकारों को बताया कि यह हमला उत्तरी कोटाबाटो प्रांत में एक सुरक्षा नाके पर किया गया जहां सेना की वर्दी पहने 10 से अधिक माओवादियों ने सुरक्षा दस्ते पर चारों तरफ से गोलीबारी शुरू कर दी और इसके बाद मौके से फरार हो गए। इस हमले में चार सुरक्षा गार्ड घायल हो गए। गौरतलब है कि दो दिन पहले ही राष्ट्रपति राष्ट्रपति दुतेत्रे ने संसद के दोनों सदनों से मिनदानो में इस वर्ष के अंत तक मार्शल लॉ बढ़ाने को कहा था ताकि सुरक्षा बलों को इस्लामिक आतंकवादियों के खिलाफ अभियान में और थोड़ा समय मिल जाए। राष्ट्रपति ने कल ही अपने शांति वार्ताकारों से मिलकर उन्हें निर्देश दिए थे कि जब तक नेशनल पीपुल्स एलायंस के विद्रोही सरकारी सैनिकों पर हमला करना बंद नहीं करते तब तक किसी द्विपक्षीय संघर्ष विराम की घोषणा नहीं की जानी चाहिए। इस बीच पुलिस और सेना ने कहा है कि यह हमला सुरक्षा दस्ते को निशाना बना कर नहीं किया गया क्योंकि ये सुरक्षाकर्मी सादी वर्दी में थे।

Share it
Share it
Share it
Top