जरदारी और उनकी बहन पर भ्रष्टाचार मामले में चार अक्टूबर को तय होंगे आरोप

जरदारी और उनकी बहन पर भ्रष्टाचार मामले में चार अक्टूबर को तय होंगे आरोप

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी और उनकी बहन फरयाल तालपुर पर फर्जी खाता मामले में चार अक्टूबर को आरोप तय किए जायेंगे। पाकिस्तान की एक जवाबदेही अदालत ने गुरुवार को इसकी घोषणा की। न्यायाधीश मोहम्मद बशीर की अदालत में मामले की सुनवाई के दौरान श्री जरदारी के वकील लतीफा खोसा ने कहा अदालत के आदेशों के बावजूद जेल में उनके मुवक्किल की सेल में एयरकंडीशनर अथवा फ्रिज मुहैया नहीं कराया गया। श्री खोसा ने अदालत में कहा,'' अदालत ने यह सुविधाएं जेल में मेरे मुवक्किल को उपलब्ध कराने का आदेश दिया था, इसे उपलब्ध कराने की बजाय उन्हें बर्फ वाले थैले दिए गए। अदालत को यह भी बताया गया कि उनके मुवक्किल को अभी तक उनके खिलाफ भ्रष्टाचार के मामले की प्रतिलिपि नहीं दी गई है। मामले की प्रतिलिपि नहीं दिए जाने पर न्यायाधीश ने श्री जरदारी से पूछा जब वह कटघरे में आये तो उन्हें भ्रष्टाचार मामले की कापी मुहैया कराई गई अथवा नहीं। इस पर श्री जरदारी ने कहा,''हम अभी आए हैं। हमने अभी कापी नहीं देखी है। न्यायाधीश बशीर ने बाद में कहा कि वह चार अक्टूबर को अगली सुनवाई में अभियुक्त पर आरोप तय करेंगे और उनको मामले से जुड़ी प्रतिलिपि मुहैया कराई जायेगी।

Share it
Top