यूक्रेन में बलात्कारियों को लगाए जाएंगे नपुंसक बनाने वाले इंजेक्शन

यूक्रेन में बलात्कारियों को लगाए जाएंगे नपुंसक बनाने वाले इंजेक्शन


कीव। यूक्रेन की संसद में एक ऐसा विधेयक पेश किया गया है जिसके तहत बच्चों से बलात्कार करने के दोषियों को नपुसंक बनाने वाला इंजेक्शन लगाया जा सकता है। यह जानकारी रविवार को मीडिया रिपोर्ट से मिली।

विदित हो कि इंजेक्शन लगाकर नपुंसक बनाने की इस प्रक्रिया को कैमिकल कैस्ट्रैक्शन कहते हैं। यह विधेयक अगर संसद में पारित हो जाता है तो अब से यूक्रेन में बच्चों से दुष्कर्म वाले दोषियों को हर साल ऐसा इंजेक्शन लगाया जाएगा। यह इंजेक्शन केवल 16 से 65 साल के दोषियों को लगाए जाने का प्रस्ताव है।

इस विधेयक के कानून बनने के बाद यूक्रेन की जेलों में बंद ऐसे हजारों दोषियों को ये इंजेक्शन लगाए जा सकते हैं। इस विधेयक में केवल दुष्कर्म ही नहीं, बल्कि यौन शोषण के आरोपियों को भी ऐसे इंजेक्शन लगाए जाने का प्रस्ताव है। अमेरिका के कुछ राज्य भी ऐसा कानून बना चुके हैं। हाल ही में अमेरिका के अलबामा राज्य ने ऐसा कानून बनाया था।

ऐसे इंजेक्शन लगाने के बाद दोषियों में सेक्स की क्षमता घटने लगती है। यूक्रेन के आधिकारिक आंकड़े के मुताबिक, सिर्फ साल 2017 में देशभर में बच्चों के साथ दुष्कर्म के 320 मामले सामने आए थे, जबकि कुल यौन शोषण के मामले इस देश में हजारों में थे।

इसी सप्ताह यूक्रेन की पुलिस ने यह भी कहा था कि एक ही दिन के भीतर बच्चों के साथ दुष्कर्म के पांच मामले सामने आए थे। हालांकि इन मामलों में तमाम डर के बावजूद अभिभावकों ने घटना की रिपोर्ट की थी।

उल्लेखनीय है कि नए कानून में बच्चों के साथ यौन अपराध करने वाले लोगों के लिए एक रजिस्टर बनाने का प्रावधान किया गया है। इनमें सभी दोषियों के बारे में विस्तृत जानकारियां सुरक्षित रखी जाएंगी। इतना ही नहीं यूक्रेन की पुलिस इन मामलों में सजा काट चुके लोगों पर पूरी जिंदगी नजर रखेगी। कानून में बच्चों के साथ दुष्कर्म मामलों में अधिकतम सजा 12 साल से बढ़ाकर 15 साल कर दी गई है।


Share it
Top