मलाला ने प्रवासी बच्चों को परिवार से अलग करने के लिए ट्रंप की निंदा की

मलाला ने प्रवासी बच्चों को परिवार से अलग करने के लिए ट्रंप की निंदा की

रियो दि जेनरो। नोबेल शांति पुरस्कार से सम्मानित मलाला युसुफजई ने अमेरिका में अवैध तरीके से आए प्रवासियों के बच्चों को परिवार से अलग करने की राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की नीति की जोरदार आलोचना की है। मैक्सिको से अमेरिका में अवैध रूप से आए प्रवासियों के लिए ट्रंप प्रशासन ने बहुत ही कड़ी नीति अपना रखी है और मई माह से अब तक ऐसे परिवारों के 2300 से अधिक बच्चों को उनके माता पिता से अलग कर दिया है। ट्रंप प्रशासन का कहना है कि ऐसे परिवारों के बालिग सदस्यों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी और इसी वजह से बच्चों को उनसे अलग कर दिया गया है। हालांकि सार्वजनिक तौर पर हो रही निंदा और अदालती फैसलों के बाद अब इस नीति पर रोक लगा दी गई है। मलाला ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा यह बहुत ही कठोर, पक्षपातपूर्ण और अमानवीय फैसला था और मुझे नही पता था कि कोई ऐसा आखिर क्यों कर सकता है। मलाला इन दिनों ब्राजील, लैटिन अमेरिकी देशों के दौरे पर हैं और बच्चियों की शिक्षा के लिए लोगों को जागरूक कर रही हैं। वह अधिक से अधिक लडकियों को शिक्षा दिए जाने के लिए उनके माता पिता को प्रोत्साहित कर रही हैं और इन देशों की सरकारों को शिक्षा के क्षेत्र में आबंटित धनराशि में इजाफा किए जाने की समर्थक भी हैं।

Share it
Top