मोदी और योगी पर अभद्र टिप्पणी के मामले में सपा पर मुकदमा दर्ज

मोदी और योगी पर अभद्र टिप्पणी के मामले में सपा पर मुकदमा दर्ज


इलाहाबाद। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रदेश उड्डयन मंत्री नंद कुमार गुप्ता उर्फ नंदी द्वारा समाजवादी पार्टी(सपा) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के शीर्ष नेताओं पर अशोभनीय टिप्पणी की चिंगारी अभी ठंडी भी नहीं हुई थी कि सपा की पूर्व विधायक विजमा यादव ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ अमर्यादित बयान देकर एक बार फिर उस आग को भड़काने का काम किया है।
पुलिस सूत्रों ने आज यहां बताया कि भारतीय युवा मोर्चा (भायुमो) के सदस्य ओमप्रकाश द्विवेदी की तहरीर पर सिविल लाइंस थाने में देर रात सपा की पूर्व विधायक विजमा यादव के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है। प्राथमिकी में प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री को लेकर खुले मंच से "अशोभनीय" टिप्पणी करने का आरोप लगाया गया है। इस अशोभनीय वक्तव्य का सोशल मीडिया पर वीडियो भी वायरल हो रहा है।
प्राथमिकी में "अशोभनीय" और "अमर्यादित" शब्दों प्रयोग किया गया है। प्राथमिकी में कहा गया है इनके प्रयोग से आम जनमानस की धार्मिक भावनाएं आहत हुई हैं। जनमानस को भड़काने का कार्य किया गया है। यह सनातन धर्म को मामने वाले सभी लोगों को आहत करता है। भारतीय संस्कृति का खुला विरोध है। सनातन धर्म का विरोध यानी राष्ट्र द्रोह जैसा है।
उन्होंने बताया कि भायुमो के करीब 50-60 कार्यकर्ताओं ने थाने में पहुंचकर रिपोर्ट दर्ज कराने की जिद करने लगे। उन्होंने बताया कि यह मामला सोरांव थाने का है लिहाजा मुकदमा वहीं पंजीकृत होगा। उन्होंने बताया कि सोरांव थाने में इस मामले में पहले भी मुकदमा पंजीकृत कराया जा चुका था। कानून व्यवस्था न/न बिगड़े इसलिए प्राथमिकी दर्ज कर उसे सोरांव भेज दिया गया है। अपराध एक ही है इसलिए एक ही मुकदमा दर्ज होगा। यहां पर दर्ज प्राथमिकी भी साेरांव के दर्ज प्राथमिकी के साथ ही जुड़ जायेगी।
गौरतलब है कि फूलपुर लोकसभा उपचुनाव के दौरान गत नौ मार्च को फाफामऊ के शांतिपुरम में आयोजित सपा अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की चुनावी जनसभा में नेताओं ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर खुले मंच से अमर्यादित टिप्पणी की गयी थी।
इससे पहले उत्तर प्रदेश के स्टांप एवं नागरिक उड्डयन मंत्री नंद गोपाल गुप्ता 'नंदी' द्वारा सपा और बसपा के बड़े नेताओं के प्रति अमर्यादित बयान देने के मामले के खिलाफ धूमनगंज थाने में तहरीर दी गयी थी।
नंदी ने बयान में कहा था कि कलियुग में रावण का जन्म मुलायम सिंह यादव के रूप में हुआ है। बसपा सुप्रीमो सुश्री मायावती को सूपर्णखा, शिवपाल सिंह यादव कुंभकर्ण और सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को मेघनाथ कहकर सम्बोधित किया।

Share it
Share it
Share it
Top