उपचुनाव में मिली जीत से अखिलेश यादव गदगद

उपचुनाव में मिली जीत से अखिलेश यादव गदगद

लखनऊ। गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा सीट के उपचुनाव नतीजों से खुश समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि यह सामाजिक न्याय की जीत है।
दोनों सीटों के आये परिणाम के बाद श्री यादव ने संवाददाताओं से कहा कि यह जीत सामाजिक न्याय की है। भावनात्मक मुद्दों को लेकर जहर फैलाने वालों को जनता ने नकार दिया है। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने संविधान की धज्जियां उड़ा दीं। जनता ने उसी का जवाब दिया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अहंकार का यह आलम है कि सदन में उन्होंने कहा था कि वह हिन्दू हैं, इसलिये ईद नहीं मनाते। एनकांउटर कर दो। यह शब्द मुख्यमंत्री के नहीं होने चाहिये। पूर्वमुख्यमंत्री ने कहा कि हमने अपने आप को कभी बैकवर्ड नहीं समझा। हमें और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) नेता को सांप-छछूंदर तथा चोर-चोर मौसेरे भाई कहा गया। सपा को औरंगजेब की पार्टी बतायी गयी। उन्होंने कहा कि गरीबों, बेरोजगारों, खासकर दलित भाइयों की मदद से सामाजिक न्याय की जीत का संदेश गया है। इस जीत से वंचित वर्गों को न्याय दिलाने का सपना पूरा होगा। सपा अध्यक्ष ने कहा कि जिसकी आबादी ज्यादा है, जो मेहनत करते हैं उन्हें ही सम्मान नहीं मिल रहा। उन्हें कीड़ा मकोड़ा कहा गया। बड़े बड़े वादे किये गये लेकिन एक भी पूरा नहीं हुआ। दोनो विजयी प्रत्याशियों को बधाई देते हुए उन्होंने कहा कि सामाजिक न्याय की जीत का संदेश देने वाली इस विजय से विनाश का रास्ता अपनाने वालों को जनता आगे भी सबक सिखायेगी। उन्होंने कहा कि भाजपा देश का नुकसान कर रही है। भावनात्मक मुद्दा लेकर समाज में जहर फैला रही है। राष्ट्रवाद के झूठे नाम पर धोखा दे रही है। उन्होंने जीत के लिये गरीब, मजदूर और बसपा के एक-एक कार्यकर्ता को बधाई दी। श्री यादव ने कहा कि यही चुनाव यदि मतपत्र से होते तो जीत का अंतर लाखों में होता। उन्होंने जीत के लिये कांग्रेस, राष्ट्रीय लोकदल, कम्युनिस्ट पार्टी, पीस पार्टी और निषाद पार्टी को भी बधाई दी। निषाद पार्टी के अध्यक्ष डा. संजय निषाद के पुत्र प्रवीण निषाद सपा के प्रत्याशी थे।

Share it
Share it
Share it
Top