Read latest updates about "हेल्थ" - Page 4

  • गर्भवती के खानपान से बच्चा बनता है बुद्धिमान

    गर्भकाल के खानपान का प्रभाव गर्भस्थ शिशु के मस्तिष्क विकास पर पड़ता है। गर्भकाल में गर्भवती के द्वारा ओमेगा एसिड वाले खाद्य पदार्थ खाने से बच्चा आगे चलकर तेज दिमाग वाला होता है। यह ओमेगा थ्री एसिड मछली के अलावा, पत्तेदार सब्जियों, अखरोट एवं अलसी आदि में मिलता है। इस विषय में शोधकर्ता अमेरिकन...

  • प्राकृतिक तरीके से फिट रहने के कुछ मंत्र

    - फल खाने से पहले, खाने के साथ या खाने के बाद में न खाएं। फल एक समय के भोजन के स्थान पर खाएं। - फल हमेशा एक समय पर एक ही तरह का खाएं। जैसे सेब, केला, संतरा एक साथ दो से तीन खा सकते हैं पर एक एक मिला कर साथ में न खाएं। - जितना श्रम करें, उतना ही खाना खाएं । - खाना भूख लगने पर ही चबा चबा कर...

  • सेहत की खबर: डायरिया से आंखें हो रही है खराब

    दस्त एवं कुपोषण का प्रभाव अब शरीर के अन्य अंगों पर भी पडऩे लगा है। इस से शरीर में विटामिन 'ए की कमी होती जा रही है जिसके चलते आंखें कमजोर हो रही हैं एवं मरीज अंधेेपन का शिकार हो रहा है। इसके शिकार गरीब बच्चे अधिक हो रहे हैं। आंखों को बचाने के लिए दस्त/डायरिया पीडि़त बच्चे को 7-8 बार दस्त के बाद ...

  • ज्यादा टूथपेस्ट भी कर सकते है आपके दातों को बर्बाद

    नई दिल्ली । अपने दांतो को सही तरीके से साफ करने के लिए महज मटर के दाने जितना टूथपेस्ट का इस्तेमाल करना ही काफी है। अगर 6 वर्ष या उससे कम उम्र के बच्चों की बात करें तो टूथपेस्ट की मात्रा चावल के दाने जितनी होनी चाहिए। जी हां, आप बिल्कुल सही पढ़ रहे हैं। ज्यादातर लोगों को लगता है कि अगर उन्हें अपने...

  • तनाव से बचें महिलाएं

    आज तमाम सुविधाएं उपलब्ध होने के बावजूद मनुष्य का जीवन निरंतर तनावग्रस्त होता जा रहा है जिसके भयावह दुष्परिणाम निरंतर हमारे सामने आ रहे हैं। तनाव उत्पन्न होने के कारण हैं आशंका, अविश्वास, बेचैनी, गलतफहमी, अपेक्षाएं, असफलताएं, लालसाएं, भय, ईर्ष्या, अहंकार आदि जिसका परिणाम हम असंतोष, क्षोभ और मानसिक...

  • एन्जियोप्लास्टी (स्टैंटिंग) क्या बला है?

    यह एन्जियोग्राफी में ही अगला स्टैप होता है, एंजियो में अगर किसी एक या अधिक नसों में 70 पर्सेंट से अधिक सिकुड़न पाई जाती है तो स्टेंट(छल्ले या वाल) डलवाने या बाईपास सर्जरी की सलाह दी जाती है। स्टैंट कैसा होता है? यह बॉल-पेन के स्प्रिंग जैसा जालीदार छल्ला होता है जो अलग-अलग साइज की लंबाई और मोटाई में...

  • अंगूर को करें ब्यूटी केयर में शामिल और फिर देखिए इसका कमाल

    बढ़ती उम्र का असर स्किन पर दिखाई देता है। जिसके कारण चेहरे पर झुर्रियां, फाइन लाइन्स व दाग-धब्बे नजर आने लगते हैं और स्किन की नेचुरल ब्यूटी कहीं खो जाती है। स्किन की खोई खूबसूरती को वापिस पाने के लिए अंगूर का प्रयोग किया जा सकता है। अंगूर को यूं तो लोग खाना काफी पसंद करते हैं, लेकिन इसके प्रयोग से...

  • प्रेग्नेंसी मे धूम्रपान करने वाली महिलाओं को हो सकता हैं पांच बड़े रोगों का खतरा

    प्रेग्नेंसी के दौरान सिगरेट पीने से महिलाओं में इनफर्टिलिटी और मिसकैरेज का खतरा बढ़ जाता है। साथ ही इससे बच्चे की ग्रोथ भी ठीक से नहीं हो पाती। ब्रेस्टफीड कराने वाली महिलाएं यदि स्मोकिंग करती हैं तो इससे ब्रेस्ट मिल्क की मात्रा कम हो जाती है और बच्चे को पूरा पोषण नहीं मिला पाता।सिगरेट पीना वैसे तो...

  • बचना आवश्यक है मधुमेह से

    मधुमेह आज की गंभीर बीमारियों में से एक है। मधुमेह को नियंत्रण में रखने के लिए सबसे जरूरी है अपने भोजन में बदलाव। मधुमेह रोग हो जाने से डायबिटिक फुट, रेटिनापैथी और न्यूरोपैथी जैसे गंभीर रोग होने की भी संभावना बढ़ती है। मधुमेह शरीर में होने वाली एक ऐसी खराबी है जिसके परिणामस्वरूप शरीर में इंसुलिन की...

  • क्या आप परेशान हैं एलर्जी से

    एलर्जी का नाम आते ही याद आता है जुकाम, खांसी, नाक बहना, तेज सुगंध और दुर्गंध का बर्दाश्त न होना, छींकें आना, नाक का बंद होना, नाक से खून आना, इचिंग होना आदि। ये सब एलर्जी के कारण ही होते हैं। इनमें सब से कॉमन एलर्जी श्वसन प्रणाली में संक्र मण के प्रवेश होने से होती है क्योंकि श्वसन प्रणाली हमारी...

  • तरण ताल-न कर दें बेहाल

    शहरीकरण के चलते - ताल- तलैया तो विलुप्त होते गए हैं। अब अस्तित्व में आ गए है तरण-ताल (स्वीमिंग पूल)। इनकी संख्या आज हर शहर, हर कॉलोनी, बड़े होटलों एवं रिहायशी टावरों में बढ़ती जा रही है जिन्हें समय-समय पर कृत्रिम ढंग से स्वच्छ किया जाता है। पानी को बदला जाता है, फिर भी सार्वजनिक उपयोग या कई तरह के ...

  • पानी अनुपम औषधि है

    पानी जीवन का एक अनिवार्य तत्व है। पानी शरीर का भोजन भी है और औषधि भी है। प्यासे के लिए पानी अमृत है। पानी जीवन है।। पानी में अनेक रोगों के निवारण की शक्ति निहित है इसीलिए प्राकृतिक चिकित्साशास्त्र में मिट्टी पानी के इलाज पर काफी जोर दिया जाता है। पानी सर्व-सुलभ उत्तम दवा है। जलने की दशा में जले...

Share it
Top