Read latest updates about "हेल्थ" - Page 4

  • ब्लोटिंग: एक आम समस्या

    पेट फूलने की समस्या से सभी को कभी न कभी जूझना पड़ता है। इससे पेट टाइट और फूला-फूला लगता है। जैसे गुब्बारे में गैस भरने पर गुब्बारा टाइट हो जाता है उसी प्रकार पेट की स्थिति होती है। ऐसा गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल ट्रेक्ट में गैस भरने के कारण होता है। इसे ब्लोटिंग कहा जाता है। कारण:- -कब्ज, फूड एनर्जी...

  • जानलेवा हो सकते हैं पेट के कीड़े

    पेट के कीड़े यानी गोल कृमि को अंग्रेजी में राउण्डवर्म कहा जाता है। ये हमारे शरीर की छोटी आंत में रहते हैं। यह पेट में पोषित होने वाला सांप जैसा कीड़ा है। ये नर-मादा दो अलग प्रकार के होते हैं। नर की लम्बाई 12 से 30 सेंटीमीटर व मादा की लम्बाई 2 से 35 सेंटीमीटर तक होती है। एक अनुमान के अनुसार एक मादा...

  • खुशबू और स्वाद का खजाना-छोटी इलायची

    - कफ, खांसी होने पर इलायची व सोंठ का चूर्ण बराबर मात्रा में शहद के साथ मिलाकर दिन में दो तीन बार चाटने से आराम मिलता है। - कभी-कभी खा लेने के बाद पेट में भारीपन महसूस होता है। ऐसी स्थिति में एक छोटी इलायची चबा लेने से पेट को आराम मिलता है। - प्याज़, लहसुन के मसाले से बनी सब्जी खाने के बाद मुंह...

  • विभिन्न साग के साथ पकाएं-मुर्ग स्पेशल

    पालक मुर्ग सामग्री:- एक किलो मुर्गा, चार कलियां लहसुन, दो मध्यम आकार के टमाटर, पचास से सौ ग्राम पालक, दो या तीन हरी मिर्च, एक कटोरी प्याज कटी हुई, एक चम्मच गरम मसाला, नमक, दो चाय के चम्मच खट्टी क्रीम, दो चाय के चम्मच मक्खन, तेल। विधि:- मुर्गे को धो कर टुकड़ों में काट लीजिए। उसके बाद तेल में तल...

  • बी0पी0 क्या बला है..? जानिए

    मनुष्य के शरीर के कोने-कोने एवं प्रत्येक अंग में खून पहुँचाने के लिए मोटी एवं पतली शिराये पाइप लाइन की तरह फैली रहती है। इन सभी मोटी-पतली नसों में हमारा दिल खून को एक टुल्लू पम्प की भांति प्रवाहित करता है। दिल के दांये हिस्से में शरीर का गन्दा खून इकट्ठा होता है जहां से यह कार्बनडाइआॅक्साइड मिला...

  • सेहत के दुश्मन होते हैं प्लास्टिक के दोने व पत्तल

    आजकल शादी-ब्याह का सीजन बड़े जोर -शोर से जोरों पर चल रहा है और शादियों में भोजन करने वाले अतिथिगण प्लास्टिक से बने दोने- पत्तल व गिलासों का जमकर उपयोग कर रहे हैं किंतु शायद उन्हें यह मालूम नहीं है कि यह हमारे बेशकीमती शरीर के लिए काफी घातक होते हैं। इस विषय में हेल्थ एक्सपर्ट कहते हैं कि यूं तो हम...

  • सर्दियों में गर्मी पाने के लिए खाएं गजक

    इस बात में कोई शक नहीं है कि सर्दियों के दिनों में हमारा खानपान पूरी तरह बदल जाता है। निस्संदेह, इस मौसम में अधिकांश लोग शरीर को गर्मी देने हेतु अनेकों चीजों पर विशेष ध्यान देने लगते हैं। सर्दियों में जहां लोग हरी सब्जियां खाना खूब पसंद करने लगते हैं वहीं अन्य दूसरी तरफ सूखे मेवे खाने की ओर भी आतुर...

  • स्वास्थ्य व सौंदर्य बढ़ाता है संतरा

    स्वास्थ्यवर्धक फल संतरे की यूं तो कई किस्में होती हैं किन्तु ढीले छिलके और सख्त छिलके की दो प्रमुख किस्मों के संतरे बाजार में अधिक पाए जाते हैं। भारत में संतरे की व्यापक पैदावार नागपुर में होती है। संतरे के सेवन से शरीर स्वस्थ रहता है, चुस्ती फुर्ती बढ़ती है, त्वचा में निखार आता है तथा सौंदर्य में...

  • स्वस्थ रहने के लिए सुनहरे नियम

    - केवल सेंधा नमक प्रयोग करें। थायराइड, बी पी और पेट ठीक होगा। - केवल स्टील का प्रेशर कुकर ही प्रयोग करें। अल्युमीनियम में मिले हुए लेड से होने वाले नुकसानों से बचेंगे। - कोई भी रिफाइंड तेल न खा कर केवल तिल, मूंगफली, सरसों और नारियल का प्रयोग करें। रिफाइंड तेल में बहुत केमिकल होते हैं जो शरीर में...

  • टेनिस खेलने वाले की जीवन आयु बढ़ जाती है 10 साल

    यूं तो खेल खेलना सभी के जीवन का अभिन्न अंग है और सभी तरह के खेल के अपने-अपने लाभ हैं किंतु सभी खेलों में टेनिस ऐसा खेल है जिसके नियमित खेलने वाले की जीवन प्रत्याशा बढ़ जाती है। वह 10 वर्ष अधिक जीवित रहता है। कोपेनहेगन डेनमार्क में लंबे समय तक चले शोध के परिणाम ने टेनिस खेलने से होने वाले इस लाभ को...

  • जैसा मौसम, वैसा खान-पान

    कहते हैं कि तंदुरूस्ती खुदा की हजार नियामतों में से एक है और जिसका तन स्वस्थ रहता है उसका मन भी स्वस्थ रहता है। स्वस्थ नागरिक ही किसी भी देश की ताकत होते हैं। दुर्भाग्य से आज की इस भागदौड़ भरी जीवनचर्या, खान-पान में आए बदलाव, बढ़ते हुए तनाव से शरीर बुरी तरह प्रभावित हो रहा है। जिन्दगी के कई रंग...

  • गुणकारी बथुआ

    सर्दियों में साग की बहार होती है। पालक, मेथी, सरसों, बथुआ इसी मौसम में आते हैं। सर्दियों में साग खाने का मजा ही कुछ अलग होता है। मक्खन, देसी घी का तड़का लगा साग और मक्की की रोटी पंजाब का मुख्य भोजन है। बथुआ स्वाद और गुणों में अपनी एक अलग पहचान रखता है क्योंकि बथुए का हरा रायता बनता है जो देखने में...

Share it
Top