Read latest updates about "हेल्थ" - Page 4

  • पायरिया मिटाए एक्युप्रेशर

    आज कल दंत रोग से लगभग हर आदमी पीडि़त है। हम शरीर के अन्य भागों के लिए जितना चिन्तित दिखाई देते हैं उतनी सुरक्षा हम दांतों की नहीं करते जिसका परिणाम होता है कि हमारे दांत दिनोंदिन खराब होते जाते हैं। क्यों होता है यह रोग:- - दांतों की सफाई न करना। - खराब ब्रिस्टल वाले ब्रश का इस्तेमाल करना। -...

  • आप भी धूम्रपान करते हैं?

    अगर आपसे कोई यह पूछे कि क्या आप धूम्रपान करते हैं और यदि आप सिगरेट बीड़ी पीने की लत से कोसों दूर हैं तो आप तपाक से यही उत्तर देंगे - 'नहीं जनाब, मैं तो इस बुरी लत से बहुत दूर हूं। मैं तो सिगरेट को छूता तक नहीं।' मान लिया आप सिगरेट नहीं पीते, परन्तु आप धूम्रपान फिर भी करते हैं। आइये बतायें कैसे - ...

  • मेटाबॉलिज्म डिप्रेस न होने दें

    आज के दौर में महिलाओं में, खासकर मेट्रो शहरों में महिलाओं में काफी मेडिकल अवेयरनैस आने लगी है। भले ही वक्त की कमी के चलते उन्हें जंक फूड से काम चलाना पड़ता हो, यह उनकी मजबूरी है लेकिन बीमारियों के बारे में निस्संदेह मीडिया के द्वारा उनकी जानकारी बढ़ी है। अब मेटाबॉलिज्म प्रोसेस को ही लें इसके...

  • यूं बनाइए अपने मस्तिष्क को प्रखर

    ऐसा माना जाता है कि मस्तिष्क की शक्ति जन्मजात होती है, अर्थात् या तो लोग जन्मजात बुद्धिमान होते हैं या फिर धीरे-धीरे बुद्धि की तीव्रता के कारण बुद्धिमान होते जाते हैं। नवीनतम शोधों से यह पता चलता है कि सही प्रोत्साहन मिलने पर हमारा मस्तिष्क कहीं अधिक तेज और बुद्धिमान हो जाता है, अर्थात् हमारी सोचने...

  • मधुमेह है तो पैरों से रखें स्नेह

    मधुमेहियों के मस्तिष्क, आंख, हृदय, किडनी एवं पैरों पर सबसे ज्यादा खतरा रहता है। शुगर के अनियंत्रित रहने का प्रभाव इन्हीं पर सबसे ज्यादा पड़ता है। डायबिटीज के मरीजों के पैरों पर इनमें से सबसे ज्यादा खतरा रहता है। हमारे यहां दुर्घटना के बाद मधुमेह दूसरा ऐसा कारण है जिससे सर्वाधिक लोगों के सामने पैर...

  • स्फूर्ति पाएं: इन्हें आजमाएं

    अधिक काम, अधिक तनाव के कारण इंसान लो फील करने लगता है। तब मन उदास होता है और कहीं भी ध्यान नहीं लगता। ऐसे में एनर्जी लेवल भी काफी कम लगने लगता है। अगर ऐसा कभी महसूस हो तो कुछ टिप्स अपनाएं और तरोताजगी महसूस करें। - स्फूर्ति पाने के लिए एक कप गर्मागर्म चाय की चुस्कियों का आनंद लें। कुछ ही समय में आप...

  • कैसे उबरें मधुमेह की आपात्कालीन स्थितियों से

    मधुमेह एक महाव्याधि है जो छोटे से रूप से उत्पन्न होकर धीरे-धीरे अपना विकराल रूप प्रकट करने लगती है और एक स्थिति ऐसी आती है जब बड़े से बड़े आधुनिक चिकित्सक भी थक-हारकर अपने हाथ खड़े कर देते हैं और इस विकट स्थिति में रोगी भगवान भरोसे ही रह जाता है। मधुमेह अर्थात् डायबिटीज में दो तरह की आपात्कालीन...

  • सोच जवान तो बुढ़ापा जवान

    जिस तरह मृत्यु एक अटल सत्य है उसी प्रकार यह भी ध्रुव सत्य है कि जिसने जन्म लिया है उसकी यदि अस्वाभाविक मृत्यु नहीं होती तो उसे जीवन में चार दौरों से गुजरना है, बचपन, जवानी, प्रौढ़ावस्था और बुढ़ापा। सच तो यह भी है कि बचपन नादानी में, जवानी सुनामी में और प्रौढ़ता कहानी में बीत जाते हैं मगर बुढ़ापा...

  • तुलसी: एक घरेलू वैद्य

    प्राचीनकाल से ही तुलसी को अत्यंत आदरणीय स्थान प्राप्त है। तुलसी को हरिप्रिया या विष्णु वल्लभा भी कहा जाता है। तभी तो यह घर-घर में श्रद्धा पाती है और प्रत्येक हिन्दू सुबह-शाम इसकी पूजा अर्चना करता है। तुलसी में औषधीय गुण हैं। इसमें छोटे-मोटे रोगों से लेकर असाध्य रोगों को जड़ से खत्म कर देने की...

  • हेल्थ टिप्स

    - सुबह 15-30 मिनट सैर करें। सुबह उठ कर अच्छे विचारों को मन में लाएं। सकारात्मक व अच्छे विचारों से आपका पूरा दिन अच्छा बीतेगा। - पानी अधिक मात्रा में पिएं। गर्मियों में तो वैसे ही पसीने के रूप में पानी का क्षय होता है, इसलिए 10-12 गिलास पानी प्रतिदिन पिएं। - संतुलित भोजन लें जिससे आपके शरीर को सभी...

  • स्वस्थ और तंदुरूस्त बने रहने के लिए सबको लगाएं गले

    यूं तो अपने प्यार का इजहार करने के लिए प्रेमियों के पास कई रास्ते होते हैं,लेकिन जो रास्ता सीधे दिल पर दस्तक देता है वह है अपने साथी को गले लगाना और उसे अहसास दिलाना कि वो आपके दिल के कितने करीब है। यकीन मानिए, अपने साथी को गले लगाना वो प्यार की झप्पी है जो किसी करिश्माई जादू से कमतर नहीं होती है। ...

  • पक्षाघात के लक्षणों को पहचानें

    प्रतिवर्ष हमारे देश में हजारों की संख्या में लोग पक्षाघात जैसे गंभीर रोग के कारण मृत्यु का ग्रास बन जाते हैं। जब किसी कारणवश हमारे मस्तिष्क को रक्त की आपूर्ति में बाधा आती है तो मस्तिष्क के उस भाग में सेल्स अपनी एनर्जी का स्रोत खो बैठते हैं और सेल्स समाप्त होना प्रारंभ हो जाते हैं। अधिकतर रोगियों...

Share it
Top