चीनी की अधिकता से दिमागी सुस्ती

चीनी की अधिकता से दिमागी सुस्ती

चीनी की उपयोगिता एवं उपयोग बढऩे के कारण कई तरह की परेशानियां बढ़ गई हैं। केक कुकीज, जैम, जैली, शीतल पेय तथा डिब्बाबंद बोतलबंद चीजों में शक्कर का प्रमुखता के साथ उपयोग किया जाता है। इसकी अधिकता के साथ दिमाग के सुस्त होने का खतरा बढ़ जाता है। लम्बे समय तक अधिक मीठा खाने से मस्तिष्क की सीखने एवं याद रखने की क्षमता में कमी आ जाती है।

- सीतेश कुमार द्विवेदी

Share it
Top