जानिये छिलकों के उपयोग

जानिये छिलकों के उपयोग

बड़े-बूढ़े कहते हैं कि दुनियां में जो भी चीजें प्रकृति ने दी हैं वे सभी किसी-न-किसी रूप में उपयोगी भी हैं। कुछ लोग इस बात को काटने के लिए घास-फूस या अन्य किसी चीज़ का उदाहरण देकर कहेंगे कि बताइये इनका क्या उपयोग हो सकता है।

वास्तव में उपयोग तो सभी चीजों का हो सकता है लेकिन अनेकानेक चीजों के उपयोगों को अधिकतर लोग जानते ही नहीं हैं और इसीलिए बेकार समझकर फेंक देते हैं जैसे फलों और सब्जियों के छिलके अक्सर सब्जी काटते समय फेंक दिए जाते हैं जबकि उन्हें काम में लाया जा सकता है। इन छिलकों का उपयोग बताया जा रहा है जिनको प्राय: अनुपयोगी माना जाता है।

केले के छिलके:- पके केले के छिलकों को पानी में उबालकर उसमें से पानी निकाल दीजिये। अब इसमें बेसन, मसाला, हरी मिर्च, हरा धनियां, अदरक आदि मिलाकर उनकी छोटी-छोटी गोलियां बना लीजिये। इन्हें धीमी आंच में भूरा होने तक तलें। अब इन गर्मागर्म कोफ्तों को खुद खाएं तथा मेहमानों को भी खिलायें।

- केले के छिलके के अंदर का मुलायम गूदा खरोंचकर जूतों पर मलिये। अच्छी तरह सूख जाने पर जूतों को साफ कपड़ों से पोंछ लें। इससे जूतों में पालिश-सी चमक आ जाएगी।

- केले का सूखा छिलका, शाम को जलाने से वायुमंडल की दुर्गन्ध दूर होती है।

- चोट या जख्म होने पर केले के छिलके के अंदर वाला गूदा लगाकर बांधने से आराम मिलता है।

संतरे के छिलके:- संतरों के छिलकों को सुखाकर व कूटकर पाउडर जैसा महीन कर लें। फिर इसमें समान मात्रा में चने या मसूर की दाल पाउडर तथा थोड़ी सी हल्दी मिला लें। इस मिश्रण में थोड़ा सा गुलाब जल मिलायें और लुगदी-सी बना लें। इस उबटन को रात्रि में सोने से पूर्व चेहरे तथा हाथ-पैर पर लगाने से न केवल मुंहासों में लाभ मिलता है बल्कि रंग भी साफ होता है।

- संतरे के छिलकों को पानी में उबालकर, ठंडा करके उस पानी सें डालकर नहाएं, ताजगी मिलेगी।

- चाय के उबलते हुए पानी में संतरे के छिलके का छोटा-सा टुकड़ा डाल दें। चाय स्वादिष्ट व खुशबूदार बनेगी।

नींबू के छिलके:- नींबू के छिलकों पर एक चुटकी पिसा हुआ नमक लगाकर बर्तन साफ करने से बर्तन आसानी से साफ हो जाते हैं। साथ

ही वे नये बर्तनों जैसे चमकने लगते हैं।

- नींबू के छिलकों को चौड़े मुंह की बोतल में रखकर ऊपर से नमक छिड़क दें। कुछ दिन बाद वे गलकर अचार बन जायेंगे।

- नींबू के छिलके सुखाकर पीस लें। इसमें दूध मिलाकर फेस पैक के रूप में काम लिया जा सकता है।

- नींबू के छिलकों पर सेंधा नमक डालकर दांतों पर रगड़ें। दांत-मसूड़े, स्वस्थ रहेंगे तथा मुंह की दुर्गंध दूर हो जाएगी।

- नींबू के छिलके चेहरे पर रगडऩे से त्वचा की चिकनाई कम हो जाएगी।

- नींबू के छिलकों पर नमक डालकर पीतल के बर्तन साफ करें।

- कपड़ों की अलमारी में नींबू के सूखे छिलके रख देने से वहां से कीड़े भाग जाते हैं।

- प्रेशर कुकर में खाना बनाते वक्त नींबू का छिलका डाल दें। इससे कुकर का भीतरी हिस्सा काला नहीं होगा।

अनार के छिलके:- अनार के छिलकों को जलाकर व पीसकर हल्दी के साथ पुरानी चोटों पर बांधने से आराम मिलता है।

प्याज के छिलके:- यदि आपके वस्त्रों पर कत्थे के दाग लग गये हों और किसी भी तरह से नहीं छूट रहे हों, तो उस पर प्याज का छिलका घिसकर खूब गर्म पानी से साबुन लगाकर धो डालिये। दाग आसानी से मिट जायेंगे।

नारियल के छिलके:- नारियल के छिलके फेंकने के बजाय संभालकर गोलाई से काटें। ये छिलके मटकी आदि ढंकने में काम आयेंगे।

- नारियल के छिलकों को जलाकर महीन पीस लें। दांतों के लिए यह श्रेष्ठ मंजन साबित होगा।

पपीते के छिलके:- पपीते के छिलकों को धूप में सुखाकर महीन पीस लें और ग्लिसरीन के साथ एक चुटकी चूर्ण मिलाकर चेहरे पर लेप करें। सप्ताह भर तक नियमित करने से चेहरे की खुश्की दूर हो जायेगी।

मटर के छिलके:- मटर के छिलकों का कोमल मुलायम भाग निकालकर धूप में सुखा लें। फिर उन्हें घी में तलकर मसाला आदि डाल लें। ये स्वाद में स्वादिष्ट तथा कुरकुरे लगेंगे।

- आनंद कुमार अनंत

Share it
Share it
Share it
Top