जब पैर हों थके हुए

जब पैर हों थके हुए

शरीर का पूरा वजन सहन करने में हमारे ये पैर साथ निभाते हैं। यदि इन पैरों में जरा सी तकलीफ होती है तो हमारा चलना फिरना कठिन हो जाता है, अत: हमें अपने पैरों का पूरा ख्याल रखना चाहिए। आइये जाने कि पैरों की देखभाल कैसे की जाए:-

- यदि आप बहुत देर से एक ही स्थान पर खड़े हैं तो पैरों में दर्द होना स्वाभाविक ही है, इसलिए थोड़ा विश्राम करें ताकि पैरों के साथ-साथ शरीर को भी आराम मिलें।

- सूजन व दर्द होने पर गर्म पानी में थोड़ा सा नमक डालकर पैरों को 10-15 मिनट तक उस पानी में डुबोयें। गर्म पानी शरीर में खून के संचार को बढ़ाता है जिससे पैरों को आराम मिलता है।

- कभी-कभी पैरों की त्वचा किसी-किसी भाग से सख्त हो जाती है। इसके लिए नहाते समय पैरों की सख्त त्वचा को प्यूमिक स्टोन से रगड़ें। तत्पश्चात् पोंछकर अच्छी क्रीम या तेल लगाएं, पैर मुलायम हो जाएंगे।

- पैरों की मालिश भी थके हुए पैरों को राहत पहुंचाती है। मालिश आप क्रीम या तेल द्वारा कर सकते हैं। ध्यान दें कि मालिश हमेशा पंजों से घुटनों की ओर करें, इससे रक्त संचार ठीक रहेगा और मांसपेशियों को आराम मिलेगा।

- पैरों की सेहत ठीक रहे, इसके लिए ज्यादा टाइट शूज न पहनें। ऊंची हील के सैंडिल का प्रयोग भी कम से कम करें। जब पैरों को अधिक थका हुआ महसूस करें तो फ्लैट चप्पल का इस्तेमाल करें। इससे पैरों को आराम मिलेगा और थकावट भी दूर होगी।

- 15 दिन में एक बार घर पर या पार्लर जा कर पेडिक्योर अवश्य करवाएं। इससे पैर स्वस्थ और सुंदर रहेंगे।

- शैली माथुर

Share it
Top