नींद संबंधी समस्याओं के कारण और निवारण

नींद संबंधी समस्याओं के कारण और निवारण

नींद आने में कठिनाई, दिन में अधिक नींद आना, बार-बार आंख खुलना, सुबह जल्दी उठ जाना, अधिक सोना, प्रतिदिन के कार्य करने में कठिनाई, कार्य में पारिवारिक और सामाजिक कठिनाई होना आदि नींद संबंधी आम समस्यायें हैं।
मानसिक कारण
- डिप्रेशन।
- एन्क्जाइटी (घबराहट)।
- तनाव या चिंता।
शारीरिक कारण
- हृदय रोग
- श्वास रोग
- मधुमेह
- नींद में सांस रूक जाना।
जीवन शैली संबंधी कारण
- अधिक शोर
- बहुत गर्मी या सर्दी
- अधिक चाय, काफी, शराब का सेवन।
- सोने से पहले अधिक शारीरिक, मानसिक क्रियायें
- दिन में सोना
- औषधियां
- सोने के समय की अनियमितता
- यदि डिप्रेशन, एन्क्जाइटी अथवा अन्य शारीरिक रोग हैं तो उनकी चिकित्सा करायें।
- यदि अनिद्रा का कोई कारण नहीं हो तो इसके लिए तनाव या अन्य समस्याओं को दूर करें, जीवन शैली ठीक करें, सोने का समय निश्चित करें।
जीवन शैली में परिवर्तन
- यदि वातावरण में शोर होता है तो शोर को कम करें।
- सोने के कमरे में अधिक ठण्ड या गर्मी नहीं होनी चाहिए।
- शाम को चाय, काफी अथवा शराब न लें।
- रात का खाना जल्दी खायें।
- शिथिलीकरण करें। धीरे-धीरे श्वास लें।
- दिन में न सोयें।
- शाम के समय अधिक उत्तेजक मानसिक एवं शारीरिक क्रिया न करें।
- बिस्तर पर लेटकर सोने की कोशिश न करें। यदि नींद नहीं आ रही है तो उठकर कुछ कार्य करें।
धीमे श्वास लेने की प्रक्रिया
- एक से चार तक गिनते हुए सांस को अन्दर खींचें।
- तत्पश्चात एक से चार गिनती गिनते हुए सांस को रोक कर रखें।
- एक से चार तक गिनती गिनें और धीरे-धीरे सांस बाहर निकालें।
- यह प्रक्रिया प्रतिदिन सुबह और शाम बीस मिनट तक करें।
- अगर इतने समय तक न कर पायें तो जितना समय उपलब्ध हो, उतने समय तक करें।
- संजय कुमार चतुर्वेदी प्रदीप

Share it
Share it
Share it
Top