आखिर 75 साल बाद इंटर कॉलेज को मिली जमीन...प्रशासन और नेताओं की पहल पर आपसी सहमति से निकला नतीजा, अरसे से चल रहा था कब्जा

कैराना। नगर के आर्य कन्या इंटर कॉलेज की कब्जायुक्त भूमि का आखिर 75 वर्षों बाद निस्तारण हो गया। स्थानीय प्रशासन और नेताओं की पहल पर आपसी सहमति से दर्जनों बीघा भूमि से कब्जा हटा लिया गया है। शुक्रवार को कॉलेज में हवन कराया गया। तत्पश्चात बाउंड्री वॉल के निर्माण हेतु नींव रखी गई। मिष्ठान का भी वितरण किया गया।

ज्वाइंट मजिस्ट्रेट/उपजिलाधिकारी डा. अमित पाल शर्मा ने नगर के आर्य कन्या इंटर कॉलेज की खाली पड़ी भूमि पर अरसे से चल रहे कब्जा हटवाने की पहल की थी। शुक्रवार सुबह भाजपा किसान मोर्चा के क्षेत्रीय उपाध्यक्ष अनिल चौहान और नगर पालिका के अध्यक्ष हाजी अनवर हसन ने आपसी सहमति से विवाद के निस्तारण हेतु कदम बढ़ाए, क्योंकि भूमि पर स्वामित्व को लेकर मामला कोर्ट तक पहुंचा हुआ है। दोनों नेताओं की मौजूदगी में आपसी सहमति बनने पर लोगों द्वारा भूमि से कब्जा हटा लिया गया। इसके बाद पालिका ने जेसीबी मशीन लगाकर भूमि को समतल कराया और वहां पड़ी गंदगी को उठवाया गया। वहीं, कॉलेज में पंडित मनोज नोटियाल द्वारा हवन कराया गया, जिसमें मुख्य यजमान भाजपा नेता अनिल चौहान रहे। इस अवसर पर सभी ने हवन में आहूतियां दी, जिसके बाद भाजपा नेता अनिल चौहान और चेयरमैन हाजी अनवर हसन ने संयुक्त रूप से कॉलेज की बाउंड्री वॉल के निर्माण हेतु नींव रखी गई। भाजपा नेता अनिल चौहान ने कहा कि भविष्य में इस कन्या कॉलेज से अध्ययन प्राप्त करने वाली छात्राएं देश सेवा में अपना महत्वपूर्ण योगदान देंगीं। उन्होंने कहा कि सफलता तभी संभव है, जब हम अपनी पढ़ाई के प्रति लगनशील और परिश्रम करने वाले हों। परिश्रम के बिना कोई भी काम नामुमकिन हैं। पालिकाध्यक्ष हाजी अनवर हसन ने कहा कि लगभग 75 वर्षों के बाद आपसी सहमति से कॉलेज की भूमि का निस्तारण हो गया, यह बड़ी बात है। उन्होंने कहा कि जहां भी कॉलेज में उनकी जरूरत है, वह हर समय तैयार हैं। इस अवसर पर कॉलेज प्रबंधन समिति के अध्यक्ष डा. सुमत प्रसाद, आर्य समाज के अध्यक्ष लाला राजेन्द्र प्रसाद, सचिव कुलदीप सिंघल एडवोकेट, कोषाध्यक्ष नरेशचंद, प्रधानाचार्या डा. दीपाली गर्ग, पूर्व प्रधानाचार्या शोभा गुप्ता, कॉलेज के पूर्व लिपिक बिजेन्द्र गोयल, प्रवीण गोयल, तौसीफ सिद्दीकी आदि मौजूद रहे।

रॉयल बुलेटिन की नई एप प्ले स्टोर पर आ गयी है।royal bulletin news लिखे और नई app डाउनलोड करें

कॉलेज के सहयोग में हर किसी ने बढ़ाए हाथ

आर्य कन्या इंटर कॉलेज की खाली पड़ी भूमि के कॉलेज में मिलने के पश्चात हर किसी ने सहयोग के लिए अपने हाथ बढ़ाए। आर्य समाज संस्था की ओर से जहां 3 लाख रूपये का चैक दिया गया, वहीं भाजपा नेता अनिल चौहान व पालिकाध्यक्ष ने 51-51 हजार, स्व. जगरोशनलाल आर्य के पुत्रों ने पिता की स्मृति में 51 हजार, पूर्व प्रधानाचार्या शोभा गुप्ता एवं वर्तमान प्रधानाचार्या डा. दीपाली गर्ग ने 11-11 हजार, कॉलेज के पूर्व लिपिक बिजेन्द्र गोयल ने 5100 रूपये देने की घोषणा की है। कॉलेज में बाउंड्री वॉल का कार्य जल्द ही शुरू हो जाएगा।

परेशान थीं कॉलेज की छात्राएं

बता दें कि कॉलेज के पिछले हिस्से पर कब्जे के चलते बाउंड्री वॉल का कार्य आजतक अधर में लटका हुआ। कॉलेज प्रबंधन समिति ने एसडीएम को शिकायत करते हुए आरोप लगाया कि कॉलेज में नशेड़ी घुस जाते हैं और यहां पर नशे के इंजेक्शन तक लगाए जाते हैं, जिससे छात्राओं को बड़ी परेशानियां होती हैं। पूर्व में शौचालय के गेट को चुरा भी लिया गया था। एसडीएम ने मामले को गंभीरता से लेकर कब्जा हटाये जाने के निर्देश दिए थे। रॉयल बुलेटिन की नई एप प्ले स्टोर पर आ गयी है।royal bulletin news लिखे और नई app डाउनलोड करें

Share it
Top