मोहम्मदपुर राई में दो दर्जन से अधिक बदमाशों ने तांडव मचाया, 20 लाख रूपये का डाका डाला

कैराना। क्षेत्र के ग्राम मोहम्मदपुर राई में बीती रात दो दर्जन से अधिक बदमाशों ने जमकर तांडव मचाया। बदमाशों ने एक के बाद 12 घरों में धावा बोलकर 1.80 लाख रूपये की नकदी समेत सोने-चांदी के आभूषण करीब 20 लाख रूपये का डाका डाला। इस दौरान घर में सो रही एक महिला के कानों से कुंडल भी झपटे गए। सुबह घटना की सूचना फैलने पर पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया। एएसपी श्लोक कुमार ने सीओ, एसएचओ व स्वाट टीम के साथ मौका-मुआयना किया। घटना से क्षेत्र में सनसनी फैली हुई है। फिलहाल पीडि़तों की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। घटना के जल्द राजफाश के लिए चार अलग-अलग टीमें गठित की गई।
गांव मोहम्मदपुर राई में बीती रात करीब 2 बजे नौशाद पुत्र असगर ने ग्राम प्रधान को घर में चोरी कर लिये जाने की सूचना दी, जिस पर डायल-100 को फोन किया गया। गांव में पहुंची डायल-100 के साथ ग्रामीण भी अपनी बाइकों पर सवार होकर तटबंध पर इस्सोपुर खुरगान की ओर दौड़ पड़े। लेकिन उन्हें कोई सफलता नहीं मिली। नौशाद का मकान गांव के बाहरी छोर पर स्थित है। वह बताता है कि परिवार छत पर सो रहा था और से बदमाश सैफ अल्मारी में रखी 42 हजार रूपये की नकदी, मोबाइल, 2 जोड़ी पाजेब, 2 जोड़ी परिबंध, 2 जोड़ी सावन झड़ी, 2 शबनम हार, 2 नथ, हथफूल, 2 चैन, सैंपिल, 1 जोड़ी पाजेब सहित करीब ढाई किलो चांदी तथा सोने के 2 जोड़ी कुंडल, अंगूठी, नाक की नथ, 2 जोड़ी कंगन, बच्चों की चैन आदि सामान चोरी कर लिया गया। वहीं, नौशाद के भाई इरशाद की पत्नी के घर पर रखी 1 जोड़ी पाजेब, 1 सावन की झड़ी आदि जेवर चोरी कर लिये गए। जैसे ही सुबह लोग अपने घरों से सोकर उठे, तो एक के बाद एक चोरी की घटनाएं सामने आने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। बताया जा रहा है कि गांव निवासी तासिम पुत्र यासीन के घर से सोने की 3 अंगूठी, 1 तबीजी, 2 गले के हार, चांदी की 1 जोड़ी पाजेब, 2 गले के हार, 1 जोड़ी सैंपिल, हाथों के परिबंध आदि के अलावा 25 हजार रूपये की नकदी, जुल्फिकार पुत्र यासीन के घर से चांदी के 8 परिबंध, पचांगले, 2 गले के हार, 3 अंगूठी व अन्य कीमती सामान के साथ-साथ 13 हजार रूपये की नकदी चोरी कर ली गई। दोनों भाइयों का मकान बराबर-बराबर में है। हाजी साजिद पुत्र शब्बीरा चक्की वाले के घर रखी सीढ़ी को दीवार पर लगाकर बदमाश अंदर घुसे और वहां से सोने का 1 गले का हार, 1 लोकिट, 1 जोड़ी झुमकी, कानों के कुंडल, चांदी की 4 जोड़ी पाजेब आदि जेवरात के अलावा अनुमानित 10 हजार रूपये की नकदी चोरी की गई। विधवा बिलकीश पत्नी मजीद के घर से सोने की नाक की कील, 1 जोड़ी कानों के कुंडल, चांदी के 4 कंगन, 2 पैंडिल, 3 जोड़ी चुटकी, 2 पैरों के गुठले, 1 जोड़ी सैंपिल, 2 मेंहदी छल्ली, 1 जोड़ी कानों के कुंडल, 1 गले की तबीजी व 17 हजार रूपये की नकदी के अलावा बिलकीश के पुत्र शहजाद के पास में ही स्थित घर से सोने के 1 जोड़ी कुंडल, चांदी की 2 अंगूठी चोरी की। महिला का पुत्र बाहर किसी काम से परिवार के साथ गया हुआ है। पुलिस को बिलकीश ने बताया कि वह घर की छत पर थी और बदमाशों को जाते हुए भी देखा, लेकिन इतना ज्ञान नहीं था। नौशाद पुत्र हनीफ के घर से भी सोने की 2 अंगूठी, 1 झुमकी, 1 चैन, 1 हार, चांदी की 4 जोड़ी सैंपिल, मुकुट आदि कीमती सामान व 100 रूपये की नकदी चुराई। विधवा अफसाना पत्नी नदीम के घर से सोने के 3 जोड़ी कानों के कुंडल, 1 अंगूठी, चांदी की 3 जोड़ी बड़ी व 1 जोड़ी छोटी सैंपिल तथा 500 रूपये की नकदी पार की। शमशेर पुत्र शरीफ का मोबाइल, सोने के 2 जोड़ी कुंडल, चांदी की 1 जोड़ी पाजेब व 18 हजार 500 रूपये की नकदी चोरी की। विकलांग जकरिया पुत्र मुन्तियाज के घर से सोने के 2 बाले, चांदी का 1 गले का हार, 1 जोड़ी पाजेब, 20 हजार रूपये की नकदी के साथ-साथ घर पर रखे कीमती कागजात व शीर का सामान बादाम आदि चोरी कर लिया। इनमें कुछ बादाम हाजी साजिद के घर के बाहर गिरे हुए पाये गए। इनके अलावा अय्यूब पुत्र हाजी इदरीस घर पर भी बदमाशों ने धावा बोलते हुए वहां से 1 मोबाइल व 33 हजार रूपये की नकदी पर हाथ साफ कर दिया। बाद में जाते समय एक बदमाश ने अय्यूब की पत्नी नाजमा के कानों से कुंडल झपट लिए और फरार हो गया। महिला नाजमा बताती है कि बदमाश केबरी और काला बनियान पहना हुआ था। घटना में लगभग 20 लाख रूपये का नुकसान आंका जा रहा है। ग्रामीणों का मानना है कि बदमाशों की संख्या 20 से 25 के दरम्यान रही होगी और वह बाइक तथा गाड़ी लेकर आए होंगे। तभी इतनी बड़ी घटना को अंजाम दिया जा सकता है। सुबह घटना की सूचना मिलने पर एएसपी श्लोक कुमार ने सीओ राजेश कुमार तिवारी व कोतवाली प्रभारी निरीक्षक भगवत सिंह के साथ-साथ स्वाट टीम प्रभारी धर्मेंद्र सिंह पंवार को लेकर मौका-मुआयना किया तथा पीडि़तों से जानकारी प्राप्त की। ग्रामीणों ने पुलिस को बताया कि नौशाद के घर से चुराई गई एक छोटी संदूकी गांव से सटे अमरूद के बाग से खाली पड़ी हुई मिली है। सीओ और एसएचओ ने बाग में भी पहुंचकर मुआयना किया। एएसपी ने पीडि़तों से जानकारी लेने के साथ ही घरों की दीवारों पर पांव के निशान भी दिखवाए, लेकिन नहीं मिले। एएसपी ने जल्द ही घटना का खुलासा कराये जाने का आश्वासन दिया है।
एक घर में चोरी की घटना का रात्रि दो बजे की पता चलने पर ग्राम प्रधान ने डायल-100 पुलिस को सूचना दी थी, जिसके बाद डायल-100 की गाड़ी गांव में पहुंची और बदमाशों को इधर-उधर तलाश किया, जिसके बाद बदमाशों का पता नहीं चलने पर डायल-100 गांव में चक्कर काटती रही। इसके बावजूद भी गांव में अन्य घरों में चोरी की घटना हो गई। यह भी सवाल ग्रामीण उठा रहे हैं। ग्रामीणों का मानना है कि अंतिम चोरी गांव में अय्यूब के घर हुई। यहां बदमाशों ने अय्यूब की पत्नी के कानों से कुंडल 2.45 बजे झपट लिए। वैसे भी ग्रामीणों ने एएसपी को शिकायत करते हुए आरोप लगाया कि डायल-100 पर तैनात पुलिसकर्मी कोई भी घटना होने पर अपने सीनियर अधिकारी को जानकारी नहीं देते हैं तथा आपस में लेनदेन करके मामले को रफादफा कर देते हैं। ग्रामीणों ने यह भी बताया कि वह रातभर रेत के वाहनों से परेशान रहते हैं और कुछ युवक नशे में धुत होकर हुड़दंग भी मचाते हैं। इस पर भी अंकुश लगाया जाए।
ग्रामीणों ने एएसपी श्लोक कुमार के समक्ष कैराना पुलिस की पोल खोल दी। बताया कि ग्रामीण क्षेत्रों में रात्रि में पुलिस गश्त नाम की कोई चीज नहीं है। उनके गांव में भी पुलिस गश्त करने नहीं आती है। यही कारण है कि गांव में इतनी बड़ी घटना अंजाम देकर बदमाश आसानी के साथ फरार हो गए। ग्रामीणों ने पुलिस गश्त बढ़ाने की मांग की। इस दौरान एएसपी ने कोतवाल भगवत सिंह से हल्का दारोगा के बारे में भी पूछा, तो बताया गया कि वह पिछले पांच दिन से छुट्टी पर गये हुए हैं।
एएसपी श्लोक कुमार ने पीडि़त लोगों से बातचीत के दौरान पूछा कि क्या उनके घर पर कोई भीख मांगने आया था, तो कुछ पीडि़तों ने महिला बताई, तो कुछ ने पुरूष। इस बिंदू पर भी पुलिस की शक की सुईं गहरा गई। एएसपी ने कहा कि घटना भिक्षों द्वारा भी अंजाम दी जा सकती है। पहले भी ऐसे मामले सामने आए हैं, जब दिन में घर-घर जाकर भीख मांगने वाले लोगों द्वारा ही रात में आकर चोरी की घटना अंजाम दी गई। फिलहाल पुलिस तमाम बिंदुओं पर जांच-पड़ताल में जुट गई।
मोहम्मदपुर राई में करीब 20 लाख रूपये के डाके के बाद से पुलिस विभाग में हड़कंप मचा हुआ है। एसपी दिनेश कुमार पी के निर्देश पर घटना के जल्द राजफाश के लिए चार टीमें गठित की गई है। एएसपी श्लोक कुमार ने बताया कि स्वाट टीम के अलावा कोतवाली से 3 टीमें यानि कुल चार टीमें गठित कर जल्द राजफाश कराये जाने के निर्देश दिये गए हैं।
कोतवाली क्षेत्र में पुलिस की निष्क्रीयता के चलते चोरी की घटनाएं निरंतर बढ़ रही है। पिछले दिनों क्षेत्र के ग्राम पंजीठ में पांच घरों में चोरी हुई थी, जिसके बाद ऊंचागांव में भी पांच घरों में चोरी को अंजाम दिया गया था। झाडख़ेड़ी में भी एक ही रात में कई घरों में चोरी की घटना सामने आ चुकी है। इससे थोड़ा पहले की बात करें तो नगर के मोहल्ला गुलशन नगर नईबस्ती में भी आधा दर्जन से अधिक घरों में चोरी हुई थी। यह प्रमुख घटनाएं हैं, बल्कि इनके अलावा कई छोटी-छोटी चोरी की घटनाएं हो चुकी है। पीडि़त बाकायदा पुलिस को तहरीर देते हैं, लेकिन उन्हें आश्वासन का लॉलीपोप देकर टरका दिया जाता है। उपरोक्त घटनाओं का आज तक पुलिस खुलासा भी नहीं कर पाई है।
एएसपी ने कहा...''घटना के संबंध में कोतवाली कैराना पर पीडि़तों की ओर अज्ञात के विरूद्ध मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। घटना के जल्द खुलासे के लिए 4 टीमें लगाई गई है। जल्द ही खुलासा कर दिया जाएगा।''

Share it
Top