दहशत में व्यापारी का परिवार, हमलावरों पर कार्रवाई की मांग...मुख्यमंत्री के नाम एसडीएम को सौंपा गया ज्ञापन

दहशत में व्यापारी का परिवार, हमलावरों पर कार्रवाई की मांग...मुख्यमंत्री के नाम एसडीएम को सौंपा गया ज्ञापन

कैराना। घर में घुसकर व्यापारी परिवार पर किए गए कातिलाना हमले के प्रकरण में आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होने से पीडि़त दहशत में है। मामले में हमलावरों के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर मुख्यमंत्री के नाम एसडीएम को ज्ञापन सौंपा गया। ज्ञापन में आरोपियों को गिरफ्तार कराने तथा उनकी ओर से दर्ज कराए गए झूठे मुकदमे की निष्पक्ष जांच कराकर उसे निरस्त कराने की मांग की गई है।

गुरूवार को दर्जनों लोग तहसील मुख्यालय पर पहुंचे। यहां एसडीएम की गैरमौजूदगी में उनके स्टेनों को मुख्यमंत्री के नाम एक ज्ञापन पत्र सौंपा। ज्ञापन में बताया गया कि गत दस मई की करीब मध्यरात्रि कपड़ा व्यापारी इंतजार अली निवासी आलकलां अपने परिवार के साथ घर पर मौजूद था।

आरोप है कि तभी मोहल्ले के ही आधा दर्जन से अधिक दबंगों ने उसके मामा शराफत के घर में घुसकर लाठी-डंडों तथा धारदार हथियारों से कातिलाना हमला कर दिया था, जिसमें कई लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे। आरोपियों ने जान से मारने की नियत से शादाब के ऊपर फायर झोंक दिए थे, जिसमें वह बाल-बाल बच गया था। इसके बाद आरोपी जान से मारने की धमकी देकर फरार हो गए थे। घटना के संबंध में सुफियान, गुफरान व बिलाल पुत्रगण मुल्ला माजिद, मुल्ला माजिद व राशिद पुत्रगण फखरू, उस्मान व अमरीश पुत्रगण राशिद समस्त निवासीगण मोहल्ला आलकलां के विरूद्ध संबंधित धाराओं में मुकदमा पंजीकृत कराया गया था। ज्ञापन में कहा गया है कि आरोपी पक्ष की ओर से उल्टा पीडि़त परिवार के विरूद्ध भी मुकदमा दर्ज कराया गया, लेकिन आरोपी पक्ष ने जो घटनास्थल दर्शाया है, उस समय वह अपने घर पर मौजूद थे, जिसकी फुटेज सीसीटीवी कैमरे में मौजूद हैं। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि आरोपियों ने षड्यंत्र के तहत उन पर मुकदमा दर्ज कराया है।

उन्होंने पीडि़त व्यापारी परिवार के हमलावरों को अविलंब गिरफ्तार कराने तथा पीडि़त पर दर्ज कराए गए फर्जी मुकदमे की निष्पक्षतापूर्वक जांच कराकर उसे निरस्त कराने की मांग की है। इस दौरान भूरा ग्राम प्रधानपति अहसान अली, बराला पूर्व प्रधान रियासत अली, इस्तकार, तनवीर, लुकमान, अरशद, महताब, मुनव्वर, आरिफ आदि मौजूद रहे।

नशीले पदार्थ के तस्कर हैं आरोपी

ज्ञापन में यह भी आरोप है कि आरोपी हमलावर नशीले पदार्थों के बड़े तस्कर हैं, जो गिरोह बनाकर अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर नशे की तस्करी करते हैं। आरोप है कि आरोपियों द्वारा अवैध कारोबार कर करोड़ों की संपत्ति भी अर्जित करने का आरोप है। यह भी बताया जा रहा है कि आरोपी पक्ष के लोगों की ओर से पूर्व में कैराना पुलिस पर हमला भी किया जा चुका है और इस मामले में मुकदमा भी दर्ज हुआ था। उक्त प्रकरण में नामजद कुछ आरोपी ऐसे भी हैं, जिन पर पुलिस पर हमले के आरोप में मुकदमा दर्ज है। ज्ञापन के साथ में आरोपियों की क्रिमनल हिस्ट्री का ब्यौरा भी दिया गया है।

पीडि़त ने दी पलायन की चेतावनी

पीडि़त व्यापारी का आरोप है कि आरोपी दबंगता के बल पर उससे अवैध उगाही की मांग की जाती है, जिसके न देने पर परेशान किया जाता है। वह आरोपियों से आजिज आकर अपने कारोबार को बंद करने को विवश हो जाएगा। पीडि़त ने पलायन को मजबूर होने की भी चेतावनी दी है।

Share it
Top