धान खरीद मूल्य का आरटीजीएस के माध्यम से किसानों को तत्काल कराया जाये भुगतानः डीएम

धान खरीद मूल्य का आरटीजीएस के माध्यम से किसानों को तत्काल कराया जाये भुगतानः डीएम

मुजफ्फरनगर । जिलाधिकारी जीएस प्रियदर्शी ने कहा कि खरीफ क्रय-विक्रय 2017-18- में मूल्य समर्थन योजना के अन्तर्गत अभी तक 80.71 मैट्रिक टन धान की खरीद की गयी है। जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि धान किसानों को क्रय केन्द्रों पर सभी आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध करायी जाये। उन्होंने बताया कि किसानों को अपना धान बेचने के लिए कहीं औऱ न जाना पडे। जिलाधकारी जीएस0 प्रियदर्शी आज यहां कलैक्ट्रेट सभागार में मार्केटिंग विभाग, पीसीएफ द्वारा धान क्रय की समीक्षा कर रहे थे।
उन्होंने बताया कि खाद्य विभाग ने मुजफ्फरनगर, चरथावल, मोरना एवं जानसठ में एक-ंएक, कुल चार धान क्रय केन्द्रों की स्थापना की गयी है। इसके अतिरिक्त पीसीएफ द्वारा भी जनपद में चार क्रय केन्द्र की स्थापना कर धान क्रय किया जा रहा है। उन्हेाने जिला खाद्य विपणन अधिकारी को निर्देश दिये कि यदि अतिरिक्त क्रय केन्द्र खोले जाने की आवश्कता हो तो क्रय केन्द्र खोले जाये। धान क्रय केन्द्रो पर बौरे आदि की व्यवस्था सुनिश्चित करायी जाये।
जिलाधिकारी ने बताया कि क्रय किये जाने धान का 12.510 लाख रूपये का भुगतान आरटीजीएस के माध्यम से कृषकों को कराना सुनिश्चित किया जाये। उन्होंने कहा कि क्रय केन्द्रों पर आने वाले किसानों के लिए पेयजल एवं बैठने के लिए दरी आदि की व्यवस्था सुनिश्चित करायी जाये।
समय समय पर जिला खाद्य विपणन अधिकारी द्वारा क्रय कन्द्रों पर जाकर निरीक्षण किया जाये। उन्होंने कहा कि यदि किसी केन्द्र पर घटतौली आदि की कोई शिकायत आदि प्राप्त हुई तो सम्बन्धित केन्द्र प्रभारी के खिलाफ कठोर कार्यवाही सुनिश्चित की जाये। जिलाधिकारी ने कहा कि क्रय केन्द्रों पर धान क्रय केन्द्र के बैनर भी लगवाये जाये एवं वाॅल पेंटिग कराकर आवश्यक सूचना अंकित करायी जाये। उन्होंने कहा कि वाॅल पेटिंग के माध्यम से धान खरीद का प्रति कुन्तल दर का भी आंकड़ा सुनिश्चित कराया जाये। बैठक में जिला खाद्य विपणन अधिकारी एवं अन्य सम्बन्धित अधिकारी उपस्थिति रहे।

Share it
Top