गैंगरेप पीड़िता ने जिलाधिकारी कार्यालय पर दिया धरना

गैंगरेप पीड़िता ने जिलाधिकारी कार्यालय पर दिया धरना

मुजफ्फरनगर। मुजफ्फरनगर जिले में मंगलवार को गैंगरेप पीड़िता ने जिलाधिकारी कार्यालय पहुंचकर अपनी बात रखनी चाही लेकिन रोके जाने पर वह धरने पर बैठ गयी। तितावी थाना क्षेत्र के नगला गांव की एक गैंगरेप पीड़िता ने बीते करीब सात माह में इंसाफ के लिए कई पुलिस अधिकारियों से भेंट की लेकिन मुकदमा नहीं दर्ज हो सका।
थाना और कचहरी के चक्कर काटकर थक चुकी पीड़िता ने न्यायालय का रास्ता अपनाया और वहां से मुकदमा पंजीकृत होने का आदेश कराया। बावजूद इसके पुलिस टालमटोल करती रही। जब वह मंगलवार को जिलाधिकारी कार्यालय पहुंची और जिलाधिकारी से मिलकर अपनी बात रखनी चाही, लेकिन नाकाम रहने पर धरने पर बैठ गयी।
तिवाती थानाध्यक्ष सूबे सिंह ने बताया कि सात माह पूर्व नुन्नाखेड़ा गांव का एक मामला संज्ञान में आया है जिसमें एक महिला से कोई वारदात होने की बात सामने आई है। वह महिला आज जिलाधिकारी कार्यालय पहुंचकर धरने पर बैठ गयी। उन्होंने बताया कि वह अभी सात दिनों पहले ही तैनाती पर आये हैं। इस मामले से जुड़ी फाइल को खंगाला जा रहा है और पीड़िता को थाने पर बुलवाया गया है।

Share it
Top