भाकियू जैविक खेती और रसायन मुक्त फसलों के लिए चलायेगी अभियान, 7 व 8 सितम्बर को सिसौली किसान भवन में होगी कार्यशाला: राकेश टिकैत

भाकियू जैविक खेती और रसायन मुक्त फसलों के लिए चलायेगी अभियान, 7 व 8 सितम्बर को सिसौली किसान भवन में होगी कार्यशाला: राकेश टिकैत

मुजफ्फरनगर। भारतीय किसान यूनियन देश व प्रदेश के किसानों की समस्याओं व हक की लड़ाई लड़ती रही है। वहीं दूसरी तरफ भारतीय किसान यूनियन ने दक्षिण भारत में सफलता के बाद उत्तर भारत के राज्यों में किसानों के लागत को कम करने व आमदनी को बढाने हेतु जैविक और मिश्रित खेती का अभियान शुरू किया है। जिसका शुभारम्भ 7 सितम्बर को भाकियू मुख्यालय सिसौली से किया जायेगा। भाकियू द्वारा कम पानी, कम लागत व सहफसल पर 7 व 8 सितम्बर को गन्ने पर सिसौली किसान भवन पर दो दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें पहले चरण में दो सौ किसानों को प्रशिक्षण दिया जायेगा।
किसानों को प्रशिक्षण देने के लिए कर्नाटक के प्रशिक्षक व गन्ने के जाने माने विशेषज्ञ सुरेश देसाई भाग लेंगे। जिसमें किसानों को रसायन मुक्त खेती के तरीके व अधिक पैदावार के गुर् सिखाये जायेंगे। कार्यशाला में गन्ने के साथ दाल व लहसुन की खेती के बारे में प्रशिक्षित किया जायेगा। कार्यशाला का आयोजन भारतीय किसान यूनियन द्वारा किया जा रहा है एवं सहयोगी संस्था के रूप में फोकस ऑन द ग्लोबल साऊथ व रोजा लक्जमबर्ग स्टिफटुंग की भूमिका रहेगी। कार्यशाला में कृषि व्यापार के विशेषज्ञ अफसर जाफरी भी किसानों का मार्गदर्शन करेंगें। कार्यशाला का शुभारम्भ भाकियू अध्यक्ष चौ0 नरेश टिकैत द्वारा 7 सितम्बर को 11 बजे किया जायेगा। कार्यशाला में जिला गन्ना अधिकारी व सांसद संजीव बालियान भी मौजूद रहेंगे।

Share it
Top