भौराकलां पुलिस ने किया मोहित हत्याकाण्ड का खुलासा...दो हत्यारोपी गिरफ्तार, हत्या में प्रयुक्त कार व तमंचा भी बरामद किया

मुजफ्फरनगर। भौराकलां थानाक्षेत्र में हुई शामली निवासी युवक मोहित की हत्या के मामले का खुलासा करते हुए पुलिस ने दो हत्यारोपी गिरफ्तार कर लिये और उनके कब्जे से हत्या में प्रयुक्त कार, आलाकत्ल तमंचा भी बरामद कर लिया। पुलिस लाईन के सभागार में पत्रकारों से वार्ता करते हुए एसपी देहात अजय सहदेव ने बताया कि भौराकलां थाने पर विगत 10 अगस्त को भौराकलां थानाक्षेत्र के गांव मुण्डभर में हुई हत्या की घटना के सम्बन्ध में वादी शौकेन्द्र पुत्र करतार सिंह निवासी ग्राम मुण्डभर थाना भौराकलां ने तहरीर देकर मुकदमा दर्ज कराया था। मुण्डभर के जंगल से 10 अगस्त को एक युवक की लाश मिली थी, जिसकी शिनाख्त मोहित पुत्र विजयपाल निवासी मौहल्ला श्रीपाल विहार शामली के रूप में हुई थी। युवक की गोली मारकर हत्या करने के उपरान्त शव मुण्डभर गांव के जंगल में पफेंका गया था। हत्या की घटना के सम्बन्ध में वादी शौकेन्द्र पुत्र करतार सिंह निवासी मुण्डभर द्वारा दर्ज कराये गये मुकदमा अपराध संख्या 119/2017 धारा 302, 201 आईपीसी बनाम अज्ञात का खुलासा करते हुए विवेचना के दौरान प्रकाश में आये दो शातिर हत्यारे अभियुक्त राजपाल पुत्र जीवन सिंह व राहुल पुत्र विजयपाल निवासी मौहल्ला श्रीपाल विहार शामली को खास मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार अभियुक्त राजपाल पुत्र जीवन सिंह के कब्जे से हत्या में प्रयुक्त एक शेवरलेट बीट कार नम्बर यूपी15 एएफ-6586 व एक आलाकत्ल तमंचा 12 बोर मय एक खोखा कारतूस बरामद किया गया है, जिसके सम्बन्ध में भौराकलां थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया है। गिरफ्रतार किये गये अभियुक्त राजपाल पुत्रा जीवन सिंह ने पूछताछ के दौरान बताया कि 10 अगस्त को वह तथा उसका साथी अभियुक्त राहुल पुत्र विजयपाल ने मृतक मोहित पुत्र विजयपाल निवासी मौहल्ला श्रीपाल विहार की गोली मारकर हत्या कर दी और शव को जंगल ग्राम मुण्डभर में पफेंक दिया था। हत्यारोपी ने बताया कि मोहित की हत्या चाची के साथ अवैध संबंधों के चलते की गयी थी। पुलिस ने इस संबंध में मृतक के चाचा व चचेरे भाई को गिरफ्तार कर लिया है। पत्रकारवार्ता में सीओ फुगाना कालू सिंह व भौराकलां थानाध्यक्ष सुभाषचन्द राठौर भी मौजूद रहे।

Share it
Top