आतंकी संदीप शर्मा उर्फ आदिल ने जुर्म कबूला...जम्मू कश्मीर में हुई तीन आतंकी घटनाओं में वाहन चालक के रूप में रहा शामिल

आतंकी संदीप शर्मा उर्फ आदिल ने जुर्म कबूला...जम्मू कश्मीर में हुई तीन आतंकी घटनाओं में वाहन चालक के रूप में रहा शामिल

मुजफ्फरनगर। जम्मू-कश्मीर में गिरफ्तार किये गये आतंकी संदीप शर्मा उर्फ आदिल से पूछताछ करने के लिये यूपी एटीएस की टीम ने अन्य सुरक्षा एजेन्सियों के साथ तालमेल बिठाते हुए कई बिन्दुओं पर जांच शुरू कर दी है। आतंकी संदीप शर्मा से पिछले तीन दिनों से यूपी एटीएस समेत कई अन्य सुरक्षा एजेन्सियां लगातार पूछताछ कर रही है और कई बडी घटनाओं का खुलासा होने की उम्मीद जतायी जा रही है। अभी तक आतंकी संदीप शर्मा लश्कर ए तैयबा के कैम्प में हथियार चलाने की ट्रेनिंग लेने की बात स्वीकार कर चुका है। इसके अलावा उसने तीन बडी आतंकी घटनाओं में शामिल होने का गुनाह भी कबूल किया है। संदीप शर्मा द्वारा किये जा रहे खुलासे से सुरक्षा एजेन्सियां भी सकते में है। ज्ञातव्य है कि मुजफ्फरनगर के थाना नई मण्डी क्षेत्र के मौहल्ला न्यू अंकित विहार निवासी संदीप शर्मा उर्फ आदिल पुत्र रामकुमार शर्मा को जम्मू कश्मीर पुलिस ने तीन दिन पूर्व अनन्तनाग में एक ऑप्रेशन के दौरान गिरफ्तार किया था। लश्कर ए तैयबा के खूंखार आतंकी बशीर लश्करी व एक अन्य आतंकी की सुरक्षाबलों से मुठभेड हुई थी, जिसमें दोनों आतंकी मारे गये थे। तलाशी अभियान के दौरान सुरक्षाबलों ने संदीप शर्मा उर्फ आदिल व उसके एक साथी को उस घर से गिरफ्तार किया था, जहां मुठभेड हुई थी। संदीप शर्मा की गिरफ्तारी से देशभर में हडकम्प मच गया। अभी तक आतंकी जिस पैटर्न पर हमलों को अंजाम दे रहे थे, यह सबसे अलग तरह का मामला था। जम्मू कश्मीर पुलिस के आईजी मुनीर खान ने भी मीडिया से मुखातिब होते हुए बताया था कि पहली बार ऐसा हुआ है कि कोई गैर इस्लामी और गैर रियासती आतंकी जम्मू कश्मीर से गिरफ्रतार हुआ है। संदीप शर्मा उर्फ आदिल से यूपी एटीएस की टीम पूछताछ करने के लिये गत दिवस ही जम्मू कश्मीर पहुंच गयी थी। यहां पर अन्य सुरक्षा एजेन्सियों के साथ मिलकर संदीप शर्मा से पूछताछ की जा रही है। पूछताछ में यूपी एटीएस की टीम को संदीप शर्मा उर्फ आदिल से जानकारी मिली कि वह लश्कर ए तैयबा के आतंकियों के साथ हथियार चलाने की ट्रेनिंग का प्रशिक्षण ले चुका है तथा लश्कर के साथ उनके वाहन ड्राईविंग का कार्य भी करता था। यूपी एटीएस के आईजी असीम अरूण ने भी इस बात की पुष्टि की है कि संदीप शर्मा उर्फ आदिल ने यूपी एटीएस की टीम से पूछताछ में तीन बडी घटनाओं में शामिल होना स्वीकार किया है। पूछताछ में संदीप शर्मा उर्फ आदिल ने तीन जून 2017 को काजीगुण्ड में आर्मी के काफिले के उपर हमला करने की घटना में शामिल होना स्वीकार किया है, इसके अलावा 13 जून को अनन्तनाग में जस्टिस निवास गार्ड पोस्ट से हथियार लूटने की घटना में भी संदीप शर्मा उर्फ आदिल शामिल रहा है। इसके अलावा 16 जून 2017 को पुलिस पार्टी के उपर अच्छबाल में हुए हमले में वाहन चलाना तथा फायरिंग करने में अपनी संलिप्तता स्वीकार की है। यूपी एटीएस टीम को संदीप शर्मा उर्फ आदिल से यह भी जानकारी मिली कि वह कई बार रोके टोके जाने पर संदीप शर्मा नाम बताकर तथा इसी नाम से बनी हुई आईडी को दिखाकर संदेह न होने का लाभ लेते हुए भी वह बच निकलता था। यूपी एटीएस द्वारा संदीप शर्मा के अन्य किसी भी मामलों में संलिप्तता के बारे में जानकारी हेतु पूछताछ की जा रही है। यूपी एटीएस टीम का नेतृत्व उपनिरीक्षक सचिन कुमार द्वारा किया जा रहा है।

Share it
Share it
Share it
Top