खालापार बवाल के आरोपी हाजी शेर की तलाश में पुलिस ने दी ताबडतोड दबिश

खालापार बवाल के आरोपी हाजी शेर की तलाश में पुलिस ने दी ताबडतोड दबिश

मुजफ्फरनगर। एसएसपी अनन्तदेव तिवारी ने कहा है कि दोषी सलाखों के पीछे होंगे और निर्दोष को जेल नहीं भेजा जायेगा। खालापार बवाल के आरोपी हाजी शेर की तलाश में खालापार में दबिश देने गयी पुलिस को आज भी खाली हाथ लौटना पडा। एन्काउंटर स्पेशलिस्ट माने जाने वाले एसएसपी अनन्तदेव तिवारी ने बुलन्द हौंसलों और पुलिसिंग के तजुर्बे से अपराधियों के नापाक मंसूबे पस्त करने के लिये कमर कस ली है। एसएसपी का कहना है कि निर्दोष के साथ कोई अत्याचार नहीं किया जायेगा और अपराधियों को किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जायेगा। उन्होंने कहा कि कप्तान के रूप में चार्ज सम्भालने के बाद से चार बडी घटनाएं हुई है, जिसमें पीनना की बैंक डकैती, शेरपुर काण्ड, नसीरपुर में युवक की हत्या व खालापार में पुलिस पर हमला हुआ। सभी मामलों में कडी कार्यवाही की गयी और किसी भी आरोपी को बख्शा नहीं गया है। उन्होंने कहा कि पुलिस द्वारा अपराधियों पर नकेल कसने के लिये ठोस कदम उठाये जा रहे है। बैंक डकैती का खुलासा करने के साथ ही शेरपुर काण्ड के आरोपियों के खिलाफ कडी कार्यवाही की गयी। इसी प्रकार नसीरपुर प्रकरण में भी पुलिस ने निष्पक्ष कार्यवाही करते हुए बडी तेजी से आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा। खालापार में पुलिस टीम पर हमला करने वाले आरोपियों के खिलाफ भी सख्त कार्यवाही अमल में लायी जा रही है। खालापार निवासी हाजी शेर व उसके पुत्र पर पुलिस ने शिकंजा कस दिया है और आज भी दलबल के साथ दबिश दी गयी। हालांकि हाजी शेर पुलिस के हाथ नहीं लगा है और वह कोर्ट में सरेन्डर करने की फिराक में रहा, लेकिन सफल नहीं हो सका। एसएसपी की सख्ती के बाद पुलिस द्वारा की जा रही कडी कार्यवाही से आरोपियों में हडकम्प मचा हुआ है।

Share it
Top