80 वर्षीय गरीब बुजुर्ग महिला राजबाला ने महिला जिम का फीता काटकर किया उदघाटन सैंकड़ांे महिलाएँ रही मौजूद

80 वर्षीय गरीब बुजुर्ग महिला राजबाला ने महिला जिम का फीता काटकर किया उदघाटन सैंकड़ांे महिलाएँ रही मौजूद

पुरकाजी। पुरकाजी में महिला जिम का उदघाटन भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता चौधरी राकेश टिकैत एवं 80 वर्षीय गरीब महिला राजबाला प्रजापति द्वारा संयुक्त रूप से पफीता काटकर किया गया इस अवसर पर नगर पंचायत के चेयरमैन जहीर फारूकी एडवोकेट ने कहा कि देश की नगर पंचायत में बनकर तैयार हुआ महिलाओं के लिए पहला महिला जिम आज उन्हें सुपुर्द कर रहे हैं उन्हें आशा है कि इस महिला जिम से कस्बे व क्षेत्र की महिलाओं को स्वास्थ्य को ठीक रखने में मदद मिलेगी उन्होंने कहा कि इस महिला जिम से पूरे देश में एक संदेश जाएगा, जिससे और नगर पंचायतें भी महिलाओं के उत्थान के लिए कार्य करेंगे। चेयरमैन जहीर फारूकी एडवोकेट ने कहा कि सरकार खुद महिलाओं के उत्थान के लिए गंभीर है। यह महिला जिम सरकार की तरफ से महिलाओं को दिवाली का गिफ्ट है उद्घाटन के अवसर पर महिलाओं का जोश देखने लायक था। महिलाएं सुबह 10 बजे से ही आना शुरू हो गई थी और 11 बजे तक सर्वसमाज से सैंकड़ांे महिलाएँ देश के पहले सरकारी महिला जिम पर इकट्ठा हो गयी, जिले के अधिकारियों के अचानक मीटिंग में व्यस्तता की वजह से उनका आना कैंसिल हुआ, तो चौधरी राकेश टिकैत के सुझाव पर वहां मौजूद सबसे बुजुर्ग गरीब महिला राजबाला से महिला जिम का फीता कटवाकर उसका शुभारंभ किया गया। राजबाला ने कहा कि अगर हमारे समय मे भी जिम होता, तो हम भी इसका लाभ उठाते सभी महिलाएं इसका लाभ उठायें राकेश टिकैत ने कहा कि महिलाओं का जिम बनाकर पुरकाजी चेयरमैन ने देश मे एक नई क्रांति को जन्म दे दिया है पुरकाजी चेयरमैन के सभी कार्य सराहनीय है। भाकियू सदैव उनकी साथ है। उन्होंने महिलाओं से घरेलू स्तर पर एवं समूह बनाकर रोजगार से जुड़ने की भी अपील की उन्होंने कहा कि महिलाओं में बहुत हुनर होता है। वह घर बैठे ही अचार, ब्यूटीपार्लर, सिलाई, जैसे अनेकों कार्य कर सकती हैं। उन्होंने महिलाओं से व्यापार में आगे आने की अपील की और घरेलू सामान को उपयोग करने की सलाह देते हुए कहा कि घर में बने हुए सामान स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होते हैं। उन्होंने महिलाओं को सलाह दी कि वह समूह बनाकर डिपार्टमेंटल स्टोर जैसे स्टोरों को चला सकती हैं। इस मौके पर सैंकड़ांे महिलाएं मौजूद रही दर्जनों महिलाओं ने मशीनें चलाकर देखी पुरकाजी। इस अवसर पर मुख्यरूप से अधिशासी अधिकारी मनोज कुमार, मुख्य लिपिक समर काजमी, चौधरी रविकांत, मोहम्मद हुजैफा, अश्वनी कुमार के अलावा नूर हसन पफरीदी, इरशाद फरीदी, शकील खान, डॉक्टर ओपी गौतम, सुखपाल सिंह बेदी, सभासद नदीम अहमद, तौकीर, गौर मोहम्मद, सुलेमान, हाफिज मोहसीन, अकील खान, शाहनवाज खान, सद्दू गौर, इनाम फरीदी, अस्तित्व महिला संगठन की डायरेक्टर रेहाना अदीब रानी सलमानी, संगीता, नीलम, नूर फातिमा, रमसा अंसारी, हिना, नाज, गुरमीत कौर, अदिति गोयल शाहजहां, कविता राणा, संगीता वर्मा आदि भारी संख्या में महिलाएं मौजूद रहे

Share it
Top