13 को होगा नेशनल एचीवमेन्ट का आयोजन

13 को होगा नेशनल एचीवमेन्ट का आयोजन

मुजफ्फरनगर। जिलाधिकारी जीएस प्रियदर्शी ने कहा कि जनपद के चयनित विद्यालयों के कक्षा 3-5 व 8 के विभिन्न विषयों के छात्रा-छात्राओं की उपलब्धि का आंकलन करने के लिए 13 नवम्बर को नेशनल एचीवमेन्ट सर्वे-2017 कराया जायेगा। उन्होंने कहा कि नेशनल एचीवमेन्ट सर्वे-2017, भारत सरकार द्वारा प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालयों में बच्चों की शैक्षणिक उपलब्धियों के जानने से सम्बन्धित कार्यक्रम/परीक्षा का आयोजन किया जायेगा। उन्होंने कहा कि डायट प्राचार्य को सर्वे हेतु राज्य शैक्षिक अनुसंधान एव प्रशिक्षण परिषद द्वारा इस कार्यक्रम का समन्वयक बनाया गया है। उन्होंने कहा कि सर्वेयर के रूप में डायट के प्रशिक्षु एफआई का कार्य करेंगे। उन्होंने कहा निजि बीटीसी संस्थान के प्राचार्य अपने संस्थानों से सर्वे में लगाये गये एफआई की तैनाती चयनित विद्यालयों में करना सुनिश्चित करेंगे। जिलाधिकारी जीएस प्रियदर्शी आज कलैक्ट्रेट सभागार में नेशनल एचीवमेन्ट सर्वे-2017 के सम्बन्ध में आवश्यक बैठक कर रहे थे। जिलाधिकारी ने कहा कि इस आयोजन में बच्चों में सीखने की रूचि भी परखी जायेगी। इसमें बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा चिन्हित किये गये विद्यालयों में कक्षा-3 के 61, कक्षा-5 में 61 तथा कक्षा-8 में 51 विद्यालयों में सर्वे कराया जायेगा। कक्षा-3 व 5 में अंग्रेजी, गणित व पर्यावरण विषय की परीक्षा होगी, जिसमें कुल अंक 45 होंगे तथा कक्षा-8 में गणित, अंग्रेजी, विज्ञान व पर्यावरण की परीक्षा होगी, जिसमें कुल अंक 60 होंगे। परीक्षा हेतु सयम 2 घंटे निर्धारित होंगे तथा विशेष आवश्यकता वाले बच्चों के लिये 30 मिनट का अतिरिक्त समय दिया जायेगा। सर्वे से संबंधित कार्यों का दायित्व एवं निर्वहन प्राचार्य डायट के निर्देशन में किया जायेगा। डायट द्वारा एफआई की नियुक्ति कर दी गयी है। कक्षा-3 में 122 एफआई, कक्षा-5 में 122 एफआई तथा कक्षा-8 में 102 एपफआई नियुक्त किये गये है। उन्होंने कहा कि सर्वे खण्ड विकास अधिकारियों को प्रेक्षक के रूप में पदेन नियुक्त किया गया है। सर्वे में सर्वेयर एक विषय के कुल 15 प्रश्न बच्चों से पूछेंगे, इस प्रकार प्राथमिक स्तर पर 45 तथा उ.प्रा. स्तर पर कुल 60 प्रश्नों की बुकलेट होगी। छात्रों द्वारा बताये गये उत्तर के आधार पर सर्वेयर अपनी बुकलेट पर आधारित ओएमआर शीट से संबंधित विकल्पों का ओवल/घेरा काला करेगा। सर्वेयर विद्यालय में कक्षा 3, 5 के 100 प्रतिशत बच्चों की ओएमआर सीट भरेगा तथा कक्षा 8 के बच्चे स्वयं अपनी ओएमआर शीट भरेंगे।
जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद स्तर पर सर्वे के अनुश्रवण हेतु डीएमयू का गठन किया गया है। सर्वे को पारदर्शी व स्वच्छ बनाये रखने हेतु डिस्ट्रिट मॉनटरिंग यूनिट का गठन किया गया है, जिसमें जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, समस्त खण्ड शिक्षा अधिकारी व समस्त एनपीआरसी को सर्वे हेतु नियुक्त किया गया है। जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि जनपद के चिन्हित विद्यालयों में समस्त एनपीआरसी व खण्ड विकास अधिकारी के प्रतिनिधि के रूप में सचिव प्रत्येक विद्यालय पर पर्यवेक्षण का कार्य करेंगे तथा निर्देशित किया गया कि सर्वे के दिन अधिक से अधिक छात्रा-छात्राएं की उपस्थिति सुनिश्चित कराई जायें। बैठक में चन्द्रकेश सिंह जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, अनिलदत्त शर्मा जिला समन्वयक प्रशिक्षण, श्रीमती सरोज वरिष्ठ प्रवक्ता, दिनेश कुमार खण्ड शिक्षा अधिकारी खतौली, श्रीमती सविता डबराल नगर शिक्षा अधिकारी, समस्त खण्ड विकास अधिकारी के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

Share it
Top