121029 कृषकों का डाटा फीडिंग का कार्य हुआ पूर्ण

121029 कृषकों का डाटा फीडिंग का कार्य हुआ पूर्ण

मुजफ्फरनगर। जिलाधिकारी जीएस प्रियदर्शी ने कहा कि जनपद मंे कृषकों को फसली ऋण मोचन के अन्तर्गत डाटा फीडिंग का कार्य तेजी के साथ कराया जा रहा है और आज फीडिंग कार्य पूर्ण करा लिया जायेगा। अभी तक 96 प्रतिशत डाटा फीडिंग का कार्य पूर्ण कर लिया गया है। इसके अतिरिक्त 29 प्रतिशत आधर कार्ड पफीडिंग भी कर लिया गया। जिलाधिकारी ने बताया कि मुजफ्फरनगर की प्रदेश में डाटा फीडिंग मंे 30वां रैंक है। जिलाधिकारी ने कैनरा बैंक द्वारा 82 प्रतिशत एवं यूनियन बैक द्वारा 91 प्रतिशत ही डाटा फीडिंग होने पर असंतोष व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि आज हर हालात में दोनांे बैंकों द्वारा डाटा पफीडिंग का कार्य पूर्ण कर उन्हें अवगत कराये।
जिलाधिकारी जीएस प्रियदर्शी आज यहंा कलैक्ट्रेट स्थित अपने कार्यालय कक्ष में मुख्य विकास अधिकारी, अपर जिलाधिकारी वित्त/रा., जिला कृषि अधिकारी एवं एनआईसी के अधिकारियों के साथ फसली ऋण मोचन योजना की प्रगति की समीक्षा कर रहे थे। उन्हांेने मुख्य विकास अधिकारी एवं अपर जिलाधिकारी वित्त/रा. को निर्देश दिये कि कैनरा बैंक, यूनियन बैंक एवं पीएनबी बैंक की अवशेष प्रविष्टियां तीव्र गति से पूर्ण कराये। उन्होंने कहा कि अपना सतत् पर्यवेक्षण बनाये रखे और फीडिंग कार्य की सतत् निगरानी कराते रहे। उन्होंने बताया कि आज सायं काल तक डाटा फीडिंग कार्य पूर्ण कराकर उन्हें अवगत कराया जाये। जिलाधिकारी ने बताया कि जनपद के एक लाख 26 हजार 401 कृषक हैं, जिसके सापेक्ष 121029 कृषकों का डाटा फीडिंग का कार्य पूर्ण कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि बैंक के डीसी को निर्देश दे दे कि आज सायं काल तक कार्य पूर्ण कर लिया जाये।
जिलाधिकारी ने कहा कि लघु/सीमांत कृषक के सतत् उन्नयन एवं विकास हेतु प्रदेश सरकार द्वारा अति महत्वपूर्ण योजना लागू की गयी है, जिसका लाभ पात्र कृषकों को दिया जाना है। जनपद के जिन कृषक द्वारा 31 मार्च 2016 तक व्यवसायिक, सहकारी अथवा क्षे0 बैंक से फसली ऋण लिया है और जिन कृषकों ने 31 मार्च 2017 तक फसली ऋण बैंकों मंे जमा कर दिया है, उस जमा ध्नराशि को घटाने के पश्चात जो ऋण की धनराशि अवशेष रह जायेगी, ऐसे फसली ऋण में से एक लाख रूपये तक फसली ऋण छूट लघु/सीमांत कृषकों, जिनकी जोत 2 हेक्टयर तक है, को दी जानी है। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी अंकित कुमार अग्रवाल, अपर जिलाधिकारी वित्त/रा. सुनील कुमार सिंह, जिला कृषि अधिकारी एवं एनआईसी के अधिकारी आदि उपस्थित रहे।

Share it
Top